Home » Auto » Industry/ TrendsFrom suzuki to honda, first car in India

इन कारों के साथ भारत में विदेशी कंपनियों ने रखा था पहला कदम, आज भी भूले नहीं है लोग

जापान की सुजुकी से लेकर होंडा तक की पहली कार आज भी हैं फेमस

1 of

नई दिल्ली। भारत में आज देसी ही नहीं बल्‍कि‍ कई फेमस और बड़ी वि‍देशी ऑटोमोबाइल कंपनि‍यों की भरमार हो गई है और यह कंपनि‍यां अब भारत को अपने मैन्‍युफैक्‍चरिंग का हब बना रही हैं। भारत की ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री का इति‍हास भी काफी पुराना है। 1897 में पहली बार भारत की सड़कों पर कार को देखा गया है। हालांकि‍, उस वक्‍त भारत में कारों को पूरी तरह से बनाने का काम नहीं होता था। पहली भारतीय कार 1942 में हिंदुस्‍तान मोटर्स की कार थी। हालांकि‍, सही मायने में कहा जाए तो भारत में पैसेंजर कारों का सफर मारुति‍ सुजुकी इंडि‍या से शुरू हुआ, जि‍सका नाम पहले मारुति‍ उद्योग था। जापान की कार कंपनी सुजुकी ने भारत में 1983 में कारों के पहले लोट की असेंबलिंग की।

 

सुजुकी की पहली कार
 
जापान की कार कंपनी सुजुकी ने भारत में अपनी पहली कार मारुति‍ सुजुकी ब्रांड नेम के साथ 1983 में असेंबलिंग शुरू की थी। इसका महत्‍व इस बात से ही लगाया जा सकता है कि‍ उस वक्‍त पूर्व प्रधानमंत्री इंदि‍रा गांधी ने पहली मारुति‍ 800 की चाबी कंपनी के पहले कस्‍टमर हरपाल सिंह को दि‍संबर 1983 में दी।
 
आगे पढ़ें....  

 

ह्युंडई मोटर इंडि‍या की पहली कार
 
ह्युंडई मोटर इंडि‍या लि‍मि‍टेड को साउथ कोरि‍या की ह्युंडई मोटर कंपनी द्वारा 6 मई 1996 में बनाया गया था। जब ह्युंडई मोटर कंपनी भारतीय ऑटोमोबाइल मार्केट में आई तो उसे पूरे देश में कोई नहीं जानता था। आज यह देश की दूसरी सबसे बड़ी कार कंपनी है। ह्युंडई मोटर इंडि‍या लि‍. की पहली कार ह्युंडई सेंट्रो थी जि‍से 23 सि‍तंबर 1998 को लॉन्‍च कि‍या गया। सेंट्रो ऐसी कार है जिसे आज भी लोग खरीदना पसंद करते हैं।

 

आगे पढ़ें...

 

टोयोटा की पहली कार

 

1997 में टोयोटा मोटर कॉरपोरेशन ने किर्लोस्कर ग्रुप के साथ ज्वाइंट वेंचर करते हुए भारत में एंट्री की थी। साल 2000 में टोयोटा ने भारत में अपनी कार मल्टी पर्पस व्हीकल क्वालिस को लॉन्च किया। उस वक्त क्वालिस की शुरुआती कीमत 4.59 लाख रुपए रखी गई थी। क्वालिस टाेयोटा की बेहद पॉपुलर कार थी और लॉन्च होने के साथ ही इसने मार्केट पर कब्जा कर लिया था।    

 

आगे पढ़ें...

 

होंडा की पहली कार

 

होंडा ने भारत में साल 1995 में एंट्री की थी। होंडा ने भारत में ऊषा इंटरनेशनल ऑफ सिद्धार्थ श्रीराम ग्रुप के साथ ज्वाइंट वेंचर करते हुए होंडा रिएल कार्स इंडिया लि. नाम से ऑपरेशन शुरू किया। हालांकि, 2012 में होंडा ने ऊषा इंटरनेशनल ऑफ सिद्धार्थ श्रीराम ग्रुप का पूरी हिस्सेदारी खरीद ली और कंपनी का नाम होंडा कार्स इंडिया लि. रख दिया गया। होंडा ने 1998 में अपनी पहली बार सिटी को लॉन्च किया और आज भी देश की पॉपुलर कारों में से एक है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट