बिज़नेस न्यूज़ » Auto » Industry/ Trendsभूल कर भी इन चीजों को न करें अनदेखा, कार के लि‍ए हैं खतरनाक

भूल कर भी इन चीजों को न करें अनदेखा, कार के लि‍ए हैं खतरनाक

अगर आप ध्‍यान से अपनी कार का रख-रखाव करते हैं तो वह लंबे समय तक आपका साथ देगी।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। जब आप कार खरीदते हैं ता उसके साथ आपके ऊपर जि‍म्‍मेदारी के साथ उसे कार चलाने और उतनी जि‍म्‍मेदारी के साथ उसकी देखरेख करना भी जरूरी हो जाता है। अगर आप ध्‍यान से अपनी कार का रख-रखाव करते हैं तो वह लंबे समय तक आपका साथ देगी। ऐसे में आपको कुछ ऐसी खतरनाक चीजों का ध्‍यान रखना चाहि‍ए जोकि‍ आपकी और आपकी कार के लि‍ए नुकसान दायक साबि‍त हो सकते हैं। इन चीजों को आप कभी नजरअंदाज न करें।  

 

बंद पड़ जाएगी कार अगर...

 

कार के इंजन की लाइफ इंजन ऑयल पर टि‍की है। अपने इंजन को ल्‍यूब्रि‍केटेड, ठंडा और साफ रखें। अगर आप समय पर इंजन ऑयल नहीं बदलते हैं तो यह इंजन के लि‍ए खतरनाक हो सकता है। पूराना इंजन ऑयल बढ़ते समय के साथ अपना काम करना बंद कर देते हैं। इससे आपके इंजन को काफी नुकसान पहुंचता है और यह खतरनाक साबि‍त हो सकता है। इंजन ऑयल का लेवल कम होने से इंजन बेहद गर्म हो जाता है और कार बंद पड़ जाती है। इसलि‍ए कार में लगे इंजन ऑयल के इंडि‍केटर को चेक करते रहें। 

 

आगे पढ़ें...

 

इस रंग का धुंआ है खतरनाक

 

आजकल की कारों का इंजन इस तरह से बनाया जा रहा है कि‍ उसमें धुंआ न के बराबर दि‍खता है। अगर कार से धुंआ दि‍खना शुरू हो जाता है तो आपको चिंति‍त होने की जरूरत है। पेट्रोल और डीजल कारों में अलग-अलग कलर के धुंए नि‍कलते हैं। लेकि‍न अगर पेट्रोल कार से नीले रंग का और डीजल कार से काले रंग का धुंआ नि‍कल रहा है तो यह खतरनाक है। पेट्रोल कार से नीले रंग का धुंआ नि‍कलने का मतलब है कि‍ पि‍स्‍टन रिंग के घि‍सने से कम्‍बशन चैंबर में इंजन ऑयल जा रहा है। यह पहला संकेत है कि‍ आपकी कार बंद होने वाली है। डीजल इंजन से काला धुंआ आने का मतलब ईसीजी फेल हो गया है या फ्यूल इंजेक्‍टर बंद हो गया है या फि‍र इंजन काफी ज्‍यादा चल गया है। ऐसे में तुरंत कार को सर्वि‍स सेंटर लेकर जाएं।  

 

आगे पढ़ें...

 

टाइमिंग बेल्‍ट का रखें ध्‍यान

 

आपके इंजन पार्ट का एक और अहम हि‍स्‍सा है टाइमिंग बेल्‍ट। टाइमिंग बेल्‍ट या चेन यह सुनि‍श्‍चि‍त करता है कि‍ क्रैंकशाफ्ट और कैमशाफ्ट रोटेशन के बीच एक समानता बनी हुई है। शेड्यूल के हि‍साब से टाइमिंग बेल्‍ट को बदलना जरूरी होता है। वक्‍त के साथ-साथ टाइमिंग बेल्‍ट ढीली हो जाती है या उसके दांत सपाट हो जाते हैं। इंजन के टाइम के हि‍साब से टाइमिंग बेल्‍ट खराब होने से कार बंद हो जाती है। 

 

आगे पढ़ें...

 

जल जाएगा इंजन अगर...

 

आजकल सभी कार इंजन बेहद ज्‍यादा प्रेशर पर काम करते हैं। तापमान को कंट्रोल में रखने के लि‍ए इंजन लि‍क्‍वि‍ड कूलिंग सि‍स्‍टम का यूज करता है। लि‍क्‍वि‍ड कूलिंग के लि‍ए जरूरी है कि‍ वह इंजन से हीट को हीट एक्‍सचेंजर यानी रेडि‍एटर के जरि‍ए बाहर नि‍काले। यह सुनि‍श्‍चि‍त करना जरूरी है कि‍ कूलेंट लेवल सही है वरना इससे इंजन जल सकता है। ऐसे में कूलेंट लेवल वॉर्निंग को देखते रहें। अगर आपकी कार के कनसोल में इसका इंडीकेटर नहीं है तो हर 15 दि‍न में लेवल पर खुद चेक करें। 

 

आगे पढ़ें...

 

टायर्स भी हैं जरूरी

 

अकसर टायर्स का ध्‍यान नहीं रखा जाता है। हमेशा टायर्स में इतनी जरूरत है उतना प्रेशर कायम रहना चाहि‍ए। इसके अलावा, थ्रेड की गहराई पर भी नजर रखनी चाहि‍ए। अच्‍छे थ्रेड पैटर्न वाले पुराने टायर्स को भी बदलना जरूरी है क्‍योंकि‍ रबड़ सख्‍त हो जाती है और अपनी पकड़ खोने लगती है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट