Home » Auto » Industry/ Trendsbeware with these mistakes on number plate

नंबर प्‍लेट के साथ ये गलति‍यां पड़ेंगी भारी, चेक कर लें अपनी गाड़ी

आपकी कार, स्‍कूटर, मोटरसाइकि‍ल या कोई अन्‍य व्‍हीकल की पहचान उसके रजि‍स्‍ट्रेशन नंबर प्‍लेट से होती है।

1 of

 

 

नई दि‍ल्ली। आपकी कार, स्‍कूटर, मोटरसाइकि‍ल या कोई अन्‍य व्‍हीकल की पहचान उसके रजि‍स्‍ट्रेशन नंबर प्‍लेट से होती है। हालांकि‍, कई लोग जाने-अनजाने में अपनी गाड़ी के नंबर प्‍लेट के साथ ऐसी गलति‍यां करते हैं जि‍सका नुकसान उनहें जुर्माना देकर चुकाना पड़ता है। ऐसे में आपको अपनी नंबर प्‍लेट बनावाते समय और प्‍लेट पर नंबर लि‍खवाते समय ध्‍यान देना चाहि‍ए।

 

हाल ही में अलग-अलग राज्‍यों की ट्रैफि‍क पुलि‍स ने कुछ ऐसे नंबरों की पहचान की है जि‍नको देखते ही जुर्माना लगाने का आदेश दि‍या गया है। साथ ही, जो लोग ट्रैरि‍फ नि‍यमों के अनुरूप नंबर प्‍लेट नहीं रखते हैं उन पर भी जुर्माना लगाया जाएं।

 

अगर इस तरह का नंबर प्‍लेट है तो लगेगा जुर्माना

 

उत्‍तर प्रदेश, लखनऊ के रि‍जनल ट्रांसपोर्ट ऑफि‍स (आरटीओ) ने पाया है कि‍ लोग फेंसी नंबर्स का इस्‍तेमाल कर रहे हैं जि‍नहें अलग स्‍टाइल और फॉन्‍ट से लि‍खने पर वह शब्‍द जैसे दिखते हैं। उदाहरण के तौर पर 8055 बन जाता है BOSS और 4141 हिंदी फॉन्‍ट में बन जाता है पापा या दादा। यहां तक की कई हिंदी फान्‍ट में 0214 बन जाता है राम। ऐसा नंबर होने पर 100 रुपए से 300 रुपए का जुर्माना लगेगा। साथ ही, आरटीओ ने कहा है कि‍ इस तरह के नंबर को लेने पर ज्‍यादा पैसे देने होंगे। आरटीओ ने 25 नंबर्स की लि‍स्‍ट जारी की है जि‍समें '0001' जैसे वीआईपी नंबर भी शामि‍ल हैं।

 

आगे पढ़ें...

 

चेक करें अपना नंबर प्‍लेट

 

दि‍ल्‍ली और दूसरे राज्‍यों की ट्रैफिक पुलि‍स ने अपनी वेबसाइट पर यह जानकारी दी है कि‍ अगर गाड़ी का नंबर प्‍लेट साथ ढंग से नहीं दि‍ख रहा है तो 100 रुपए से 300 रुपए तक का जुर्माना देना होगा। इसमें अगर आपके नंबर प्‍लेट पर लि‍खे नंबर का फॉन्‍ट साइज छोटा है या कोई नंबर आधा मि‍ट गया है तो अपको इसे ठीक कराना होगा। इसके अलावा, अगर नंबर प्‍लेट टूट गई है तो जल्‍द ही नई नंबर प्‍लेट लगवाएं।

 

आगे पढ़ें...

 

अगर VIP नंबर है तो...

 

लखनऊ आरटीओ ने उनकी नजर '0001' जैसे वीआईपी नंबर्स पर है क्‍योंकि‍ कई लोग इसके लि‍ए लंबे समय तक इंजतार करते हैं और कई लोग इस तरह के नंबर उपलब्‍ध नहीं होने पर गाड़ी रजि‍स्‍टर्ड नहीं कराते हैं। मुंबई ट्रैफि‍क पुलि‍स के मुताबि‍क, यदि‍ कि‍सी के पास वीआईपी नंबर है तो उसे वह नंबर पूरा लि‍खना होगा। उदाहरण के लि‍ए अगर कि‍सी के पास 9 नंबर है तो उसे वह पूरा '0009' यानी चार डि‍जि‍ट में दि‍खना होगा। ऐसा नहीं होने पर भारी जुर्माना लगाया जाएगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट