Home » Auto » Industry/ Trendsधूप में खड़ी कार: 60 मि‍नट में कौन सा पार्ट कि‍तना हो जाता है गर्म

धूप में खड़ी कार: 60 मि‍नट में कौन सा पार्ट कि‍तना हो जाता है गर्म

अगर आपकी कार धूप में खड़ी है तो मात्र एक घंटे में कैबि‍न का तापमान 46 डि‍ग्री सेल्‍सि‍यस तक पहुंच जाता है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। एक अध्‍ययन में पाया गया है कि‍ अगर आपकी कार धूप में खड़ी है तो मात्र एक घंटे में कैबि‍न का तापमान 46 डि‍ग्री सेल्‍सि‍यस तक पहुंच जाता है। इसकी वजह से कार में बैठना और उसे चलाना बेहद मुश्‍कि‍ल हो जाता है। इतना ही नहीं, इससे कार खराब होने का खतरा भी बढ़ जाता है। जब आप कार में बैठते हैं तो उसका हर हि‍स्‍सा, जि‍से आप छूते हैं उसका तापमान कार के भीतर के तापमान से ज्‍यादा होता है।   

 

धूप में खड़ी कार का तापमान

 

एरि‍जोना स्‍टेट यूनि‍वर्सि‍टी में रिसर्च प्रोफेसर नेंसी सेलोवर ने कहा कि‍ जब हम गर्मी के दि‍न में अपनी  कार में बैठते हैं तो हम स्‍टीयरिंग व्‍हील को छू भी नहीं पाते हैं। रि‍सर्चर ने पाया है कि‍ जब आपकी कार धूप में खड़ी होती है तो एक घंटे के भीतर कार के भीतर का औसत तापमान 46 डि‍ग्री सेल्‍सि‍यस हो जाता है। वहीं, डैशबोर्ड का तापमान 69 डि‍ग्री, स्‍टीयरिंग व्‍हील का 52 डि‍ग्री और सीट्स का तापमान 50 डि‍ग्री सेल्‍सि‍यस हो जाता है। 

 

वहीं, कैलि‍फोर्नि‍या सैन डि‍एगो यूनि‍वर्सि‍टी और एरि‍जोना स्‍टेट यूनि‍वर्सि‍टी के रि‍सर्चर ने यह भी पाया है कि‍ बेहद गर्म दि‍नों के दौरान धूप में खड़ी कार के भीतर का 46 डि‍ग्री सेल्‍सि‍यस पर पहुंचता ही है, साथ ही डैशबोर्ड का तापमान 73 डिग्री तक भी पहुंच जाता है। जर्नल में प्रकाशि‍त अध्‍ययन में वि‍भि‍न्‍न प्रकार की कारों की तुलना की गई है। 

 

आगे पढ़ें....

 

छांव में खड़ी का का तापमान

 

यह भी पाया गया है कि‍ छांव में खड़ी कार के भीतर का तापमान एक घंटे में 37 डि‍ग्री सेल्‍सि‍यन के करीब पहुंच जाता है। वहीं, डैशबोर्ड का औसत तापमान 47 डि‍ग्री, स्‍टीयरिंग व्‍हील्‍स का 41 डि‍ग्री और सीट्स का तापमान 40 डि‍ग्री सेल्‍सि‍यस हो जाता है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट