बिज़नेस न्यूज़ » Auto » Industry/ TrendsBMW पर मुकदमा, डीजल एमि‍शन को लेकर धोखा देने का आरोप

BMW पर मुकदमा, डीजल एमि‍शन को लेकर धोखा देने का आरोप

बीएमडब्‍ल्‍यू पर अमेरि‍का में हजारों गाड़ि‍यों में 'डि‍फीट डीवाइज' इंस्‍टॉल करने पर मुकदमा कि‍या गया है।

BMW sued in US over diesel emissions

न्‍यूयार्क। जर्मनी की लग्‍जरी कार कंपनी बीएमडब्‍ल्‍यू पर अमेरि‍का में हजारों गाड़ि‍यों में 'डि‍फीट डीवाइज' इंस्‍टॉल करने पर मुकदमा कि‍या गया है। बीएमडब्‍ल्‍यू पर अमेरि‍का में डीजल एमि‍शन टेस्‍ट में धोखाधड़ी करने का आरोप है। न्‍यू जर्सी में फेडरल कोर्ट में केस को फाइल कि‍या गया है जोकि‍ जज द्वारा सर्टि‍फाइड करने के बाद मुकदमे का रूप ले लेगा। यह मुकदमा 2009 से 2013 के बीच बेची गईं बीएमडब्ल्‍यू एक्‍स5 और 335डी मॉडल डीजल कारों पर कि‍या गया है।  

 

बीएमडब्‍ल्‍यू पर आरोप

 

Hagens Berman कंपनी के वकीलों का दावा है कि‍ इन कारों का एमि‍शन स्‍टैडर्ड लेवल से 27 गुना तक ज्‍यादा है। ऐसा 'डि‍फीट डीवाइज' और 'चालाक सॉफ्टवेयर' की वजह से हुआ है। कंपनी के मैनेजिंग पार्टनर स्‍टीव बरमन ने कहा कि‍ इस लेवल पर ये कारें न केवल खराब है बल्‍कि‍ यह कानूनी तौर पर अमेरि‍की सड़कों पर चलने के स्‍टैंडर्ड को पूरा भी नहीं करती हैं। और अगर बीएमडब्‍ल्‍यू सबको सच बताती तो कोई भी इन कारों को नहीं खरीदता। उन्‍होंने कहा कि‍ बीएमडब्‍ल्‍यू ने दो टूक तरीके से अपने लॉयल कस्‍टमर्स को अंधेरे में रखा। 

 

इससे पहले फॉक्‍सवैगन ने दि‍या था धोखा

 

बीएमडब्‍ल्‍यू पहली ऐसी कंपनी नहीं है जि‍सपर एमि‍शन का उल्‍लंघन करने के खि‍लाफ कानूनी कार्रवाही का सामना करना पड़ रहा है। इससे पहले फॉक्‍सवैगन पर 1.1 करोड़ कारों में डि‍फीट डीवाइसेज लगाने का आरोप साबि‍त हुआ था। दुनि‍या भर में 'डीजलगेट' स्‍कैंडल नाम से जाना गया। वकीलों की ओर से उनके क्‍लाइंट्स के लि‍ए मुआवजे की मांग की जा रही है। 

 

बीएमडब्‍ल्‍यू के हेडक्‍वार्टर पर पड़ी थी रेड

 

एक सप्‍ताह पहले ही जर्मनी की अथॉरि‍टीज ने म्‍यूनि‍ख में बीएमडब्‍ल्‍यू के हेडक्‍वार्टर और आस्‍ट्रिया में रेड मारी थी। यह रेड 11,000 से ज्‍यादा कारों में एमि‍शन चीट सि‍स्‍टम बनाने से जुड़े संभावि‍त फ्रॉड की प्रारंभि‍त जांच से जुड़ा था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट