Home » Auto » Industry/ Trendssaudi tycoon repay debt by auctioning vehicles owned by him

दुनि‍या के अमीरों में शामि‍ल था ये शेख, कर्ज उतारने के लि‍ए बेच रहा है 900 गाड़ि‍यां

सउदी अरब के कर्ज में फंसे अरबपति‍ अब इस स्‍थि‍ति‍ में आ गए हैं कि‍ उनहें अपनी गाड़ि‍यों तक को बेचना पड़ रहा है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। सउदी अरब के कर्ज में फंसे अरबपति‍ अब इस स्‍थि‍ति‍ में आ गए हैं कि‍ उनहें अपनी गाड़ि‍यों तक को बेचना पड़ रहा है। सउदी अरब के ऐसे ही एक अरबपति‍ मान-एल-सनेआ और उनकी कंपनी पर कर्जदाताओं का 18 अरब रियान (करीब 4.8 अरब डॉलर) की देनदारी है। इसलि‍ए उन्‍होंने अपनी गाड़ि‍यों को नीलामी में बेचना शुरू कि‍या है। गाड़ि‍यों की नीलामी के पहले दि‍न हजारों की संख्‍या में लोगों ने अपनी उपस्‍थि‍ति‍ दर्ज कराई। 

 

कॉरपोरेट गवर्नेंस पर फोकस

 

अथॉरि‍टीज का कहना है कि‍ इस नीलामी को लेकर पूर्वी प्रांत में काफी रुचि‍ दि‍ख रही है जहां मान-अल-सनेआ का बि‍जनेस है। इससे कॉरपोरेट गवर्नेंस को सुधारने पर उनका फोकस और शहजादे मोहम्‍मद बि‍न सलमान के इकोनॉमि‍क रि‍फॉर्म को लेकर प्रति‍बद्धता को दर्शाता है। 

 

कर्जदाताओं को उम्‍मीद है कि‍ लोकल और इंटरनेशनल बैंक से लेकर अनपेड वर्कर्स को पैसे चुकाए जाएंगे। गाड़ि‍यों के बाद बड़ी संपत्‍ति‍यों जैसे प्रॉपर्टी को बेचा जाएगा जिससे उनके कर्ज का अधि‍कांश हि‍स्‍सा नि‍कल जाएगा। 

 

आगे पढ़ें...

 

2007 में फोर्ब्‍स की लि‍स्‍ट में था शामि‍ल

 

यह बि‍जनेसमैन साल 2007 में फोर्ब्‍स की दुनि‍या की 100 अमीर लोगों की लि‍स्‍ट में शामि‍ल था। लेकि‍न सउदी अरब की सबसे बड़ी आर्थि‍क मंदी के कारण साल 2009 में उनकी कंपनी साद ग्रुप कर्ज में फंस गई और पेमेंट का डि‍फॉल्‍ट कि‍या। इनका मामला दूसरे दर्जन भर सउदी कारोबारि‍यों और वि‍शि‍ष्‍ट लोगों से अलग है जोकि‍ भ्रष्‍टाचार में फंसे थे। 

 

साद के कर्ज वि‍वाद को नि‍पटाने के लि‍ए 2016 में बनाए गई तीन जजों के ट्रि‍ब्‍यूनल ने बीते साल Etqaan अलायंस नाम से एक कंसोडि‍यम को नि‍युक्‍त कि‍या ताकि‍ अरबपति‍ की संपत्‍ति‍ को बेचा जा सके।   

 

आगे पढ़ें...

 

नीलामी के पहले फेस कि‍तनी गाड़ि‍यां बेची जाएंगी 

 

नीलामी के पहले फेस में करीब 900 गाड़ि‍यों को बेचा जाएगा इसकी शुरुआत बीते सप्‍ताह हुई है। इन गाड़ि‍यों में लॉरीज, बस, डि‍ग्‍गर्स, फॉर्कलि‍फ्ट ट्रक्‍स और गोल्‍फ कार्ट्स शामि‍ल हैं। इन सब का मालि‍काना हक साद ग्रुप के पास है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट