बिज़नेस न्यूज़ » Auto » Industry/ Trendsकार कंपनियों ने दिए ड्राइविंग के 6 आसान टिप्स, सीखनें वालों के आएंगे बड़े काम

कार कंपनियों ने दिए ड्राइविंग के 6 आसान टिप्स, सीखनें वालों के आएंगे बड़े काम

कुछ टि‍प्‍स बता रहे हैं जो महिंद्रा, मारुति सुजुकी आदि कंपनियों की ओर से दिए गए हैं

1 of

नई दिल्ली। कई ऑटोमोबाइल कंपनियां ने कार चलाने की ट्रेनिंग के लिए अपने ड्राइविंग स्कूल्स खोले हैं। इसके अलावा, नए कार चलाने वालों को वह अपनी ओर गाइडलाइन या टिप्स देती हैं। जिनका फायदा नए ड्राइवर्स को काफी ज्यादा मिलता है। आप कार चलाना सीख रहे हैं तो आपको कुछ बेसि‍क बातों को ध्‍यान में रखना चाहि‍ए। अगर आप ड्राइविंग करते हुए इन चीजों को याद रखेंगे तो आप भी एक एक्‍सपीरि‍यंस ड्राइवर की तरह कार चलाने लगेंगे। चाहे कार सीखने वाला हो या एक्‍सपर्ट, कुछ बातों को हमेशा याद रखना ही पड़ता है। यहां हम आपको ऐसे ही कुछ टि‍प्‍स बता रहे हैं जो महिंद्रा, मारुति सुजुकी आदि कंपनियों की ओर से दिए गए हैं।  

 

क्लच पेडल पर हमेशा पैर न रखें

 

महिंद्रा एंड महिंद्रा की ओर से दी गई टिप्स में कहा गया है कि आपको हमेशा स्पीड लिमिट्स को बरकरार रखना चाहिए और अचानक स्पीड बढ़ाने या रोकने से बचना चाहिए। कंपनी ने यह भी बताया कि क्लच पेडल को फुट रेस्ट के तौर पर यूज न करें क्योंकि इससे वक्त से पहले ही क्लच प्लेट्स खराब हो सकती हैं। इसके अलावा, कार स्पीड पर होने पर क्चल का यूज नहीं करना चाहिए। 

 

आगे पढ़ें...

 

कैसे तय करें कि आगे वाली कार से कितना दूर रहना है

 

महिंद्रा ने बताया कि अपनी आगे वाली कार से सही दूरी बनाना बेहद जरूरी है। जो कार आप चला रहे हैं और जो कार आपसे आगे चल रही है, उसके बीच की दूरी को कैसे तय करें। यह एक कॉमन इश्‍यू है जो हर कार चलाने और सीखने वाले के सामने आता है। यह पता करना मुश्‍कि‍ल होता है कि‍ सही दूरी कि‍तनी है। जब कोई कार एक सुरक्षि‍त दूरी पर आपसे आगे है तो आपको सड़क की स्‍ट्रीप को देखना चाहि‍ए। सड़क की स्‍ट्रीप को आपकी कार और आगे वाली गाड़ी के बीच में देखें। 

 

जब आपके आगे वाली कार रुकी हो या धीमी गति‍ से चल रही हो तो यह सुनि‍श्‍चि‍त करें कि‍ आपकी कार और आगे वाली कार के बीच मौजूद सड़क की स्‍ट्रीप हर वक्‍त दि‍खती रहे। इससे आप दोनों के बीच का अंतर समझ जाएंगे और अगर स्‍ट्रीप नहीं दि‍खती है तो समझ लें कि‍ आपको ब्रेक लगानी है। यह काफी आसान और प्रभावशाली है।

 

आगे पढ़ें...

 

कार मोड़ते समय देखें...
 

कार को मोड़ते समय अकसर आपको बि‍जली का खंबा या टेलीफोन पोल या पेड़ सड़क के कि‍नारे मि‍लता है जोकि‍ बि‍ल्‍कुल कोने पर 90 डि‍ग्री टर्म पर रहता है। बि‍ना टकराए या रगड़ाए कार को मोड़ना है तो पोल या पेड़ से थोड़ दूर से ही टर्न करें। यही बात मॉल, ऑफि‍र आदि‍ की पार्किंग में भी काम आती है जहां पि‍लर लगे रहते हैं।

 

आगे पढ़ें...

 

 

इनर रीयर व्‍यू और विंग मि‍रर का करें यूज

 

जब आप कार चलाना सीखना शुरू करते हैं तो ज्‍यादातर लोग आगे सड़क पर ज्‍यादा फोकस करते हैं और अगल-बगल को देखना भूल जाते हैं। अचनाक दांए या बांए से आने वाली गाड़ी से सीखने वाले का ध्‍यान भटक जाता है और वह एक्‍सीडेंट कर देता है। इससे बचने के लि‍ए हमेशा इनर रीयर व्‍यू मि‍रर और विंग मि‍रर को चेक करते रहें। ऐसे कि‍सी ड्राइविंग स्‍कूल न चुने जो बि‍ना विंग मि‍रर से कार चलाना सीखाते हैं।   

 

आगे पढ़ें...

 

कार को रीवर्स करते वक्‍त...

 

कार को रीवर्स करते वक्‍त आपको पीछे देखने या सि‍र को बाहर नि‍कालने की वजह हमेशा मि‍रर्स का इस्‍तेमाल करना सीखना चाहि‍ए। हालांकि‍, जहां बेहद नजदीकी मामला है और आपके मन में कोई शक है तो शीशे नीचे कर बाहर देख सकते हैं कि‍ कोई चीज कि‍तनी दूर है। इसमें कोई बुराई नहीं है। बंपर को नुकसान पहुंचाने से बेहतर है कि‍ आप चेक कर लें। 

 

आगे पढ़ें...

 

कैसे बैठना है जरूरी
 
सही सीटिंग पोजि‍शन बेहद जरूरी है। एक्‍सपीरि‍यंस ड्राइवर्स भी सही ढंग से नहीं बैठते हैं और कम्‍फर्ट और कंट्रोल कम रहने की वजह से दुर्घटना की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। सुनिश्‍चि‍त करें कि‍ आपकी कमर सीधी है। सीट पोजि‍शन ऐसी होनी चाहि‍ए जहां से आप सभी जगह आसानी और आराम ने देख सकते हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट