Home » Auto » Industry/ TrendsRoyal Enfield Bikes in India, Forgotten royal enfield bikes in India

Royal Enfield की इन 5 Bikes के बारे में नहीं जानते होंगे आप, हो गईं थी सुपर फ्लॉप

Royal Enfield सभी Bikes उतनी पॉपुलर नहीं हुईं जिन्हें हम आज जानते हैं

1 of

नई दिल्ली। देश की सबसे पुरानी मोटरसाइकिल कंपनियों में से एक Royal Enfield को उसकी मोटरसाइकिल के लिए जाना जाता है। Royal Enfield की शुरुआत साल 1901 में हुई थी। माना जाता है कि यह दुनिया की सबसे पुरानी मोटरसाइकिल कंपनी है जो आज भी प्रोडक्शन कर रही है। भारत में कंपनी की शुरुअात 1955 में एनफील्ड इंडिया नाम से हुई थी और बीते 63 साल में कंपनी ने भारत में कुछ आईकॉनिक बाइक्स को लॉन्च भी किया। हालांकि, कंपनी की सभी बाइक्स उतनी पॉपुलर नहीं हुईं जिन्हें हम आज जानते हैं। 

 

रॉयल एनफील्ड ने कुछ ऐसे टू-व्हीलर्स भी बनाए थे जिनके बारे में शायद ही कोई जानता होगा या अब शायद उनहें लोग भूल चुके हैं। यहां हम आपको रॉयल एनफील्ड की उन टू-व्हील्स के बारे में बता रहे हैं जिनमें मोपेड से लेकर स्कूटर तक शामिल है।   

 

रॉयल एनफील्ड लाइटनिंग

 

रॉयल एनफील्ड लाइटनिंग एक क्रूजर मोटरसाइकिल है जोकि अब बदल कर थंडरबर्ड हो चुकी है। इसे थंडरबर्ड जैसा ही डिजाइन दिया गया था और इसमें 535 सीसाी कास्ट आयरन इंजन का यूज किया गया। यह इंजन 26 बीएचपी पावर और 38 एनएम टॉर्क जेनरेट करने की क्षमता रखता था। लाइटनिंग में लगे इंजन केा 4 स्पीड गियरबॉक्स के साथ उतारा गया जिसकी टॉप स्पीड 125 Kmph थी। हालांकि, लाइटनिंग ज्यादा दिन तक टिक नहीं पाई और इसे 2003 में बंद कर दिया गया। 

 

आगे पढ़ें...

 

फ्यूरी 175

 

रॉयल एनफील्ड ने भारत में फ्यूरी नाम से मोटरसाइकिल पेश कि थी जोकि एक तरह से  163-cc Zundapp KS175 का वर्जन थी। इसमें 5 स्पीड गियरबॉक्स, एक हाइड्रोलिक ब्रेम्बो डिस्क ब्रेक और स्लिवलेस हार्ड क्रोम्ड सिलेंडर बैरल था, यह सब भारत में पहली बार किसी बाइक में देखा गया। हालांकि, इस मोटरसाइकिल के बारे में आज शाायद ही कोई जानता होगा। 

 

आगे पढ़ें...

 

रॉयल एनफील्‍ड Taurus

 

साल 1993 में रॉयल एनफील्‍ड ने एक मात्र डीजल मोटरसाइकि‍ल Taurus को पेश कि‍या था। लेकि‍न बाइक में डीजल इंजन लोगों को खास पसंद नहीं आया। इस बाइक में 325 सीसी इंजन था जोकि‍ 6.9 पीएस पावर और 15 एनएम टॉर्क जेनरेट करता था। Taurus को हैवी ड्यूटी लगैज रैक के साथ पेश कि‍या गया था। इसकी टॉप स्‍पीड भी केवल 80 कि‍मी प्रति‍ घंटा तक सीमि‍त थी।

 

आगे पढ़ें...

 

रॉयल एनफील्ड एक्सप्लोरर 50

 

रॉयल एनफील्ड एक्सप्लोरर 50 को भी रॉयल एनफील्ड ने इंपोर्ट किया था और इसे जर्मन मोटरसाइकिल कंपनी जूंडएप ने बनाया था। एक्सप्लोरर 50 बेहद कम समय ही इंडिया में टिक पाई। इस बाइक को 1980 के दशक में पेश किया गया था और इसमें 50 सीसी इंजन और 3 स्पीड ट्रांसमिशन था। 

 

आगे पढ़ें...

 

रॉयल एनफील्ड सिल्वर प्लस

 

रॉयल एनफील्ड सिल्वर प्लस को भी 1980 के दशक में पेश किया गया और इसे भी जूंडएप की मदद से बनाया गया। सिल्वर प्लस में 65 सीसी सिंगल सिलेंडर इंजन था जिसमें पहली बार 2 स्पीड गियरबॉक्स को यूज किया गया। बाद में इसे 3 स्पीड यूनिट से अपडेट किया गया। सिल्वर प्लस में हाथ से ऑपरेट होने वाला कैब लिंक्ड गियर शिफ्ट था।  

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट