Home » Auto » Launchesफोर्ड-ह्युंडई के बीच चल रही है नंबर 1 एक्‍सपोर्टर बनने की जंग - ford india and hyundai in no 1 car exporter

फोर्ड-ह्युंडई के बीच चल रही है नंबर 1 एक्‍सपोर्टर बनने की जंग, बचे हैं केवल 3 महीने

इस वक्‍त फाइनेंशि‍यल ईयर 2017-18 के नौ महीनों में फोर्ड इंडि‍या ने पहली बार ह्युंडई को पीछे छोड़ रखा है।

फोर्ड-ह्युंडई के बीच चल रही है नंबर 1 एक्‍सपोर्टर बनने की जंग - ford india and hyundai in no 1 car exporter
 
नई दि‍ल्‍ली। फाइनेंशि‍यल ईयर 2018 खत्‍म होने में 3 माह से भी कम वक्‍त बचा है। ऐसे में भारत से कारों को एक्‍सपोर्ट करने वाली ऑटोमोबाइल कंपनि‍यों में फोर्ड इंडि‍या और ह्युंडई मोटर इंडि‍या के बीच की जंग बढ़ती जा रही है। इस वक्‍त फाइनेंशि‍यल ईयर 2017-18 के नौ महीनों में फोर्ड इंडि‍या ने पहली बार ह्युंडई को पीछे छोड़ रखा है। इसके पीछे कंपनी के चुनिंदा मेड इन इंडि‍या मॉडल्‍स की ग्‍लोबल मार्केट में बढ़ती डि‍मांड है। फोर्ड इंडि‍या अपनी नई लॉन्‍च की गई ईकोस्‍पोर्ट के साथ डोमेस्‍टि‍क मार्केट के साथ-साथ एक्‍सपोर्ट मार्केट में भी पॉजि‍शन को मजबूत करने की कोशि‍श कर रही है। 
 
आगे चल रही है फोर्ड 
 
फाइनेंशि‍यल ईयर 2017-18 के पहले नौ माह के दौरान फोर्ड इंडि‍या कार को एक्‍सपोर्ट करने के मामले में सबसे आगे चल रही है। सोसाइटी ऑफ ऑटोमोबाइल मैन्‍युफैक्‍चरर्स (सि‍आम) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबि‍क, फोर्ड इंडि‍या ने अप्रैल-दि‍संबर 2017-18 में टोटल 1,34,575 कारों को एक्‍सपोर्ट कि‍या है। इसमें सालाना आधार पर 11.78 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है। पि‍छले साल की समान अवधि‍ में यह आंकड़ा 1,20,388 यूनि‍ट्स था।
 
फोर्ड के मॉडल्‍स की वि‍देशों में डि‍मांड
 
फोर्ड इंडि‍या ने हाल ही में ईकोस्‍पोर्ट फेसलि‍फ्ट को लॉन्‍च कि‍या और लॉन्‍च होने के साथ ही इसकी डि‍लि‍वरी नॉर्थ अमेरि‍का में शुरू हो गई। इसके अलावा, फोर्ड फि‍गो या के4 प्‍लस हैचबैक और फोर्ड एस्‍पायर का एक्‍सपोर्ट यूरोप, मि‍डल ईस्‍ट, सब-सहारा अफ्रीका, एशि‍या और नॉर्थ अमेरि‍का में उभरते हुए दूसरे मार्केट के साथ-साथ ऑस्‍ट्रेलि‍या समेत 50 देशों में कि‍या जा रहा है। 
 
डोमेस्‍टि‍क सप्‍लाई करने में लगी ह्युंडई 
 
ह्युंडई मोटर इंडि‍या का टोटल एक्‍सपोर्ट अप्रैल-दि‍संबर 2017-18 के दौरान 1,19,819 यूनि‍ट्स रहा। इन आंकड़ों के साथ ही ह्युंडई फि‍लहाल दूसरे नंबर पर चल रही है। ह्युंडई मोटर इंडि‍या लि‍. के डायरेक्‍टर (सेल्‍स एंड मार्केटिंग) राकेश श्रीवास्‍तव ने बताया कि‍ कंपनी के लि‍ए डोमेस्‍टि‍क मार्केट काफी अहम है और नए प्रोडक्‍ट्स को देश में उपलब्‍ध कराना जरूरी है। यही वजह है कि‍ एक्‍सपोर्ट में कटौती करने पड़ी है। मौजूदा समय में ह्युंडई वरना के लि‍ए करीब 3 माह का और क्रेटा के लि‍ए 1.5 माह का वेटिंग पीरि‍यड चल रहा है। हाल ही में कंपनी को वरना के लि‍ए मि‍डल ईस्‍ट से भी ऑर्डर मि‍ला है जि‍से हमें पूरा करना है।
 
तीसरे नंबर पर मारुति‍ 
 
फोर्ड और ह्युंडई के बाद देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति‍ सुजुकी इंडि‍या का नाम आता है। मारुति‍ सुजुकी ने फाइनेंशि‍यल ईयर 2017-18 के पहले नौ माह के दौरान 89,720 यूनि‍ट्स का एक्‍सपोर्ट कि‍या है। 
 
कार कंपनी एक्‍सपोर्ट (अप्रैल-दि‍संबर 2017-18)
फोर्ड इंडि‍या 134575
ह्युंडई मोटर इंडि‍या 119819
मारुति‍ सुजुकी इंडि‍या 89720
फॉक्सवैगन इंडि‍या 71677
जनरल मोटर्स इंडि‍या 60707
 
Get Latest Update on Budget 2018 in Hindi
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट