विज्ञापन
Home » Auto » Industry/ TrendsMaruti Suzuki Gypsy Production To Stop After 33 Years

भारतीय सेना की पसंद रही ये गाड़ी, 27 साल की सर्विस के बाद अब होने जा रही रिटायर

पहाड़ी, बर्फीली और रेगिस्तानी जमीन पर मनवा चुकी है अपने दम का लोहा

Maruti Suzuki Gypsy Production To Stop After 33 Years

Maruti Suzuki Gypsy Production To Stop After 33 Years: भारतीय सेना का मारुति सुजुकी जिप्सी लंबे समय तक हिस्सा रही। अब इस कार को रिप्लेस किया जा रहा है। अब इसकी जगह इंडियन आर्मी महिंद्रा स्कॉर्पियो और टाटा सफारी वीइकल्स का इस्तेमाल करेगी।

नई दिल्ली. भारतीय सेना का मारुति सुजुकी जिप्सी लंबे समय तक हिस्सा रही। अब इस कार को रिप्लेस किया जा रहा है। अब इसकी जगह इंडियन आर्मी महिंद्रा स्कॉर्पियो और टाटा सफारी वीइकल्स का इस्तेमाल करेगी। सेना शहर की सड़कों से लेकर पहाड़ों और रेगिस्तान तक में इस ऑल-पर्पज वीइकल का इस्तेमाल करती है। इसमें मिलिट्री इक्विपमेंट को ले जाने के लिए बैक साइड पर हुक भी लगे होते हैं। 

 

सेना से जिप्सी का पहला ऑर्डर 1991 में मिला था।

Maruti Suzuki ने एक ईमेल जारी करके आधकारिक तौर पर अपनी पॉप्युलर ऑफ रोड SUV मारुति सुजुकी का प्रॉडक्शन बंद करने की जानकारी दी है। साथ ही कंपनी ने अब इस एसयूवी की बुकिंग डीलरशिप से न लेने का नोटिस जारी किया है। इस एसयूवी को साल 1985 में लॉन्च किया गया था। मारुति सुजुकी को सेना से जिप्सी का पहला ऑर्डर 1991 में मिला था। इसके बाद से कंपनी सेना को 35,000 से ज्यादा जिप्सी की सप्लाई कर चुकी है। कंपनी को जिप्सी के लिए सबसे बड़ा ऑर्डर सेना से पिछले वर्ष 4,000 यूनिट्स से ज्यादा का मिला था। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन