बिज़नेस न्यूज़ » Auto » Industry/ Trendsमारुति 15 लाख लोगों को देगी ट्रेनिंग, अपने स्‍कूल नेटवर्क के लिए बनाया प्‍लान

मारुति 15 लाख लोगों को देगी ट्रेनिंग, अपने स्‍कूल नेटवर्क के लिए बनाया प्‍लान

मारुति सुजुकी बीते पांच साल में 5.3 लाख से ज्‍यादा लोगों को सेफ ड्राइविंग की ट्रेनिंग दे चुकी है।

1 of

नई दिल्‍ली. देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने अपने ड्राइविंग स्‍कूल नेटवर्क के जरिए 2020 तक 15 लाख लोगों को प्रशिक्षण देने का लक्ष्‍य रखा है। कंपनी ने सोमवार को तमिलनाडु के पाल्लिची में अपना 450वां ड्राइविंग सेंटर खोला। मारुति सुजुकी बीते पांच साल में 5.3 लाख से ज्‍यादा लोगों को सेफ ड्राइविंग की ट्रेनिंग दे चुकी है। 

 

महिलाओं को मिली 46% ट्रेनिंग 
मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) ने अपने स्‍टेटमेंट में कहा है कि मारुति ड्राइविंग स्‍कूल नेटवर्क (एमडीएस) के जरिए सेफ ड्राइविंग की ट्रेनिंग पाने वालों में 46 फीसदी महिलाएं हैं।

एमएसआई के सीनियर एग्‍जीक्‍यूटिव डायरेक्‍टर (मार्केटिंग एंड सेल्‍स) आरएस कल्‍सी ने कहा कि हमारा उद्देश्य एमडीएस नेटवर्क का विस्‍तार करना और 2020 तक 15 लाख लोगों को क्‍वालिटी ड्राइविंग स्किल्‍स की ट्रेनिंग देना है।

 

आगे पढ़ें... MDS का कितने शहरों तक पहुंचा नेटवर्क

 

 

यह भी पढ़ें... TV खरीदने की है प्‍लानिंग तो जल्‍दी करें, अगले महीने से बढ़ने वाले हैं दाम

 

 

212 शहरों में पहुंचा नेटवर्क 

मारुति के अनुसार, 2017-18 में करीब 1.75 लाख लोगों ने मारुति के सेंटर्स पर ट्रेनिंग हासिल की। 450वां सेंटर खुलने के साथ ही एमडीएस का नेटवर्क देश के 212 शहरों में हो गया। एमएसआई ने अपने डीलर्स के साथ मिलकर ड्राइविंग स्‍कूल स्‍थापित किया है। इसके अलावा कंपनी राज्‍य सरकारों के साथ मिलकर साम इंस्‍टीट्यूट ऑफ ड्राइविंग एंड ट्रैफिक रिसर्च (IDTRs) का प्रबंधन कर रही है। IDTRs ड्राइविंग ट्रेनिंग के लिए मानक तय करता है और टेक्‍नोलॉजी के इस्‍तेमाल को प्रमोट भी करता है। 

 

आगे पढ़ें... MDS का सेफ ड्राइविंग को प्रमोट करना मकसद

 

 

 

सेफ ड्राइविंग को प्रमोट करना मकसद  

कल्‍सी ने कहा कि कंपनी का मानना है कि वैज्ञानिक तरीके से डिजाइन किए गए ड्राइविंग ट्रेनिंग प्रोग्राम से भारतीय सड़कों को सुरक्षित बनाने में मदद मिलेगी। भारत में हर साल सड़क हादसे में 1.5 लाख से ज्‍यादा लोगों की मौत हो जाती है।  

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट