विज्ञापन
Home » Auto » Industry/ TrendsHarley Davidson sales

जिस बाइक को लेकर मोदी के पीछे पड़े थे ट्रम्प, फंसी बड़ी मुसीबत में, अब लगा रहे हैं मदद की गुहार

ट्रंप ने कहा था कि पीएम मोदी को 2 मिनट में झुकने को कर दिया था मजबूर

1 of

नई दिल्ली. अमेरिकी मोटरसाइकिल निर्माता कंपनी Harley Davidson मुश्किल हालातों से गुजर रही है। पिछली 8 तिमाही यानी 2 साल से इस मोटरसाइकिल कंपनी की सेल्स गिर रही है। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने इस बाइक से टैरिफ कम करने की मांग को लेकर पीएम मोदी के पीछे पड़े थे। ऐसे में भारत को टैरिफ में 50 फीसदी की कटौती करनी पड़ी थी। 

 

2 मिनट में पीएम मोदी को झुकने की कही थी बात 

इसके बाद ट्रंप ने कहा था कि उन्होंने इंडिया को 2 मिनट की बातचीत में झुकने को मजबूर कर दिया था। दरअसल ट्रंप की ओर से धमकी दी गई थी कि अगर हार्ले डेविडसन से टैरिफ घटाया नहीं गया, तो वो भारतीय मोटरसाइकिल्स पर टैरिफ बढ़ा देंगे। इसके बाद पीएम मोदी को टैरिफ कम करने का निर्णय लेना पड़ा था। हालांकि अब इसी मोटरसाइकिल कंपनी को संकट से उबारने के लिए अमेरिका की तरफ बाकी देशों से टैरिफ घटाने की मांग की जा रही है। 

 

30 साल पहले हालात में पहुंची हार्ले डेविडसन 

द इकोनॉमिस्ट मैगजीन के मुताबिक हार्ले डेविडसन इन हालात में करीब 30 साल पहले पहुंची थी। वो दौर 1981 का दौर था, जब अमेरिका में जापानी कंपनियों ने काफी ही शानदार बाइक्स बहुत ही कम कीमत में उतार दी। इसके चलते हार्ले डेविडसन बाइक की कमर टूट गई। अमेरिका साल 1981 में मंदी के दौर से जूझ रहा था और ऐसे में हार्ले डेविडसन की महंगी बाइक खरीदने को तैयार न था। तब ग्रुप ऑफ एम्पलाई ने कंपनी को खरीदा और फिर अमेरिकी सरकार से जापानी बाइक्स पर टैरिफ लगाने की मांग की। साथ ही अपनी बाइक्स की क्वॉलिटी में सुधार किया और 1940 के हैवा रेट्रो लुक में वापसी की।

 

 

अब टैरिफ बन गया अमेरिका की मुसीबत 

हालांकि अब वही टैरिफ हार्ले डेविडसन का दुश्मन बन गाय है। ऐसे में अमेरिकी राष्ट्रपति अन्य देशों से अमेरिकी मोटरसाइकिल हार्ले डेविडसन पर टैरिफ हटाने की मांग कर रहे हैं। कंपनी को उम्मीद है कि इससे उसे 120 मिलयन डॉलर जनरेट करने में मदद मिलेगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन