विज्ञापन
Home » Auto » Industry/ TrendsCar dekho company

पुरानी कार बेचकर खड़ी की 160 करोड़ की कंपनी, अब किया दक्षिण भारत का रुख, खोले 12 नए स्टोर 

2020 तक देश में 200 स्टोर खोलने का है लक्ष्य  

1 of

नई दिल्ली. गुरुग्राम से शुरू हुई कंपनी कार देखो डॉट कॉम ने आज दिल्ली एनसीआर उत्तर भारत में पुरानी कार के बेचकर 160 करोड़ रुपए की कंपनी खड़ी कर दी। इसे 2015 में विभोर सहारे, आकांश सिन्हा और अनुभव दीप ने खडा किया। गाड़ी को पहले ‘कारबीकी’ के नाम से जाना जाता था। हाल ही में यूज़्ड कार बाजार में अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए इसे कारदेखो ग्रुप में शामिल किया गया। 9 जनवरी 2019 को दिल्ली-एनसीआर में गाड़ी का पहला शोरूम खोला गया था। वर्तमान में दिल्ली एनसीआर में गाड़ी के 15 शोरूम स्थापित हैं।

 

बेंगुलरु में गाड़ी के 12 नए स्टोर खोलकर की शुरूआत 

कारदेखो ने 'गाड़ी' आउटलेट के साथ दक्षिण भारत में कदम रखा है। कारदेखो ने इसकी शुरूआत बेंगुलरु में गाड़ी के 12 नए स्टोर खोलकर की है। ‘गाड़ी’ कारदेखो की सहायक कंपनी है, जहां यूज़्ड कारों में डील की जाती है। सिलिकॉन सिटी के नाम से मशहूर बेंगलुरु कैरियर के दृष्टिकोण से युवाओं के बीच एक लोकप्रिय जगह है, ऐसे में गाड़ी के लिए अपने व्यवसाय को बढ़ाने और अपनी पकड़ मजबूत करने के लिए यह अच्छी जगह साबित हो सकती है।

 

दिल्ली एनसीआर के 15 स्टोर से बेची 900 कार 

गाड़ी ने दिल्ली-एनसीआर में पहली तिमाही के भीतर अपने 15 स्टोरों पर 900 से अधिक कारों की बिक्री के साथ अच्छी सफलता हासिल की है।गाड़ी ग्राहकों के बीच अपनी कार बेचने के लिए भरोसेमंद व परेशानी मुक्त माध्यम बनने की लगातार कोशिश कर रही है। गाड़ी टीम ने दिल्ली-एनसीआर, बेंगलुरु और मुंबई समेत देशभर में 2020 तक लगभग 200 स्टोर खोलने का लक्ष्य रखा है। गाड़ी की खासियत ग्राहकों को आसान और भरोसेमंद माध्यम से कार बेचने के साथ उन्हें कार की अच्छी रीसेल वैल्यू, मुफ्त आर.सी. ट्रांसफर, लोन क्लोजर असिस्टेंट, इंस्टेंट मनी ट्रांसफर और अपने आउटलेट पर कार निरीक्षण प्रदान करना है।

 

 

2121 तक भारत होगा यूज्ड कार का तीसरा सबसे बड़ा बाजार

मैक्किंज़े की रिसर्च के अनुसार भारत में यूज़्ड कार का मार्केट निरंतर बढ़ रहा है और 2021 तक भारत यूज़्ड कार सेगमेंट का विश्व में तीसरा सबसे बड़ा बाजार बन जाएगा। कारों की लाइफ-साइकिल, उत्सर्जन और सुरक्षा मानदंडों में बदलाव के कारण उपभोक्ताओं के बीच पुरानी कारों की मांग बढ़ी हैं। सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (एस.आई.ए.एम.) के अनुसार गाडी जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की मदद से यूज़्ड कार डीलर की पहुंच ग्राहकों तक बढ़ी है। बेंगलुरू में हर महीने औसतन 7,000 से 8,000 यूज़्ड कारें बेची जाती हैं, जो इसे गाड़ी के लिए एक सही मार्केट बनाता है।

बेंग्लुर से सफलता की उम्मीद 

इस पर टिप्पणी करते हुए गाड़ी के सीईओ और को-फाउंडर विभोर सहारे ने कहा कि ‘मुझे एक नए बाजार में कदम रखने पर बेहद ख़ुशी हो रही है। यह कदम हमारे आगे बढ़ने का प्रतिक है और हमें विश्वास है कि बेंगलुरू के स्टोर अविश्वसनीय सफलता के गवाह बनेंगे और अन्य शहरों में विस्तार को प्रोत्साहित करेंगे। बेंगलुरु हमारे लिए लक्षित ग्राहकों और बाजार के अवसरों का आदर्श संयोजन है। हम बेंगलुरु के ग्राहकों से अच्छी प्रतिक्रिया की उम्मीद करते हैं।’

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन