Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Do You Know »Commodity Market »FAQ» Know About Commodity Exchange And Hedging

    क्या है वायदा कारोबार और कमोडिटी एक्सचेंज, कैसे करते हैं हेजिंग

     
    वायदा कारोबार में कोई कारोबारी अपनी भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखकर सौदे करता है और इसमें पूरा पैसा भी एक साथ नहीं दिया जाता है, लेकिन एक्सपायरी की तारीख आने तक आपको अपना सौदा क्लियर करना होता है। भारत में कई कमोडिटी एक्सचेंज हैं, जिनमें कमोडिटी का वायदा कारोबार होता है। इनमें एमसीएक्स, एनसीडीईएक्स, एनएमसीई और आईसीईएक्स प्रमुख हैं।
     
    कमोडिटी एक्सचेंज

    कमोडिटी एक्सचेंज वे इंटरमीडियरी होते हैं, जो कमोडिटी कारोबार के लिए प्लेटफॉर्म मुहैया कराते हैं। इस समय देश में पांच राष्ट्रीय स्तर के कमोडिटी एक्सचेंज हैं- एमसीएक्स, एनसीडीईएक्स, एसीई, आईसीईएक्स और एनएमसीई।
     
    ये सभी एक्सचेंज भारत सरकार द्वारा वायदा बाजार के नियमन के लिए स्थापित वायदा बाजार आयोग (एफएमसी) के नियंत्रण में काम करते हैं। हालांकि, इनके अलावा देश में 20 और कमोडिटी एक्सचेंज हैं, लेकिन देश में कमोडिटी कारोबार के काफी बड़े हिस्से पर एमसीएक्स और एनसीडीईएक्स का ही कब्जा है।
     
    आगे की स्लाइड्स में पढ़ें स्पॉट प्राइस और हेजिंग के बारे में- 
     

    और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY