Advertisement

Do you know:128 साल पहले लगा था मानसून का पहला पूर्वानुमान

पहली लंबी अवधि के लिए मानसून का पूर्वानुमान 4 जून 1886 को एचएफ ब्लैनफोर्ड ने लगाया था।

1 of

नई दिल्ली. मौसम विभाग के आंकड़े के मुताबिक 1 जून से अब तक देश में सामान्य से 41 फीसदी कम बारिश हुई है। वहीं स्काईमेट का आंकड़ा कह रहा है कि पिछले 10 सालों में जून में इतनी कम बारिश नहीं हुई है और देश के कई राज्य सूखे की चपेट में है। 

मानसून के बारे में कई ऐसी भी बातें हैं जो शायद कुछ ही लोगों को पता होंगी। इस पैकेज में हम आपको बताएंगे ऐसी ही बातें और साथ ही दिखाएंगे पिछले 10 साल में मानसून की उत्पादन और जीडीपी पर असर की तस्वीर। आइए जानते हैं ऐसी ही कुछ बातें-

क्या आप जानते हैं ?
 
=> पहली लंबी अवधि के लिए मानसून का पूर्वानुमान 4 जून 1886 को एचएफ ब्लैनफोर्ड ने लगाया था।
 
=> 1901 से अब तक सबसे ज्यादा दक्षिण पश्चिम मानसून वर्षा 122.9 फीसदी 1917 में हुई।
 

आगे की स्लाइड में जानें मानसून से जुड़ी कुछ और खास बातें- 
 

Advertisement

=> 1901 से अब तक सबसे कम दक्षिण पश्चिम मानसून वर्षा 75.1 फीसदी 1918 में हुई।
 
=> 1901 से अब तक देश में 20 साल सूखा ग्रसित रहा। उसमें से 13 पर अल नीनो का प्रभाव था।
 
=> 1901 से अब तक देश में 13 मानसून भारी बारिश वाले रहे, जिसमें 6 पर लानिना का प्रभाव था।
 
 
=> तेलंगाना, रायलसीमा और पश्चिम राजस्थान देश में सबसे सूखा प्रभावित क्षेत्र हैं।
 
=> ये क्षेत्र पांच साल में 2 बार सूखे की चपेट में आ जाते है।
 
=> पूर्वोत्तर राज्य सबसे कम सूखे की चपेट में आते है। इन क्षेत्रों में सूखे की आवृत्ति 15 साल में एक बार है।
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement