Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Market »Commodity »Agri» U.S. May Become Largest Market For Indian Tea Industry

    भारतीय चाय उद्योग के लिए बड़ा बाजार बन सकता है अमेरिका

    भारतीय चाय उद्योग के लिए बड़ा बाजार बन सकता है अमेरिका

    मोटापे और स्वास्थ्य में गिरावट जैसी दिक्कतों के चलते बढ़ रहा है चाय का चलन

    अवसर
    उम्मीद की जा रही है कि पिछले पांच सालों में ऐसा पहली बार होगा जब अमेरिका में चाय उद्योग का रेवेन्यू एक अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच सकता है।

    भारतीयचाय उत्पादकों के लिए अमेरिका से एक अच्छी खबर आ रही है। अमेरिका में उम्रदराज हो रहे लोगों के बीच में हेल्थ को लेकर जागरुकता बढ़ रही है जिसके कारण वहां पर पेय के रूप में चाय की खपत बढ़ रही है। अमेरिका के लोग अब शुगर से भरपूर बेवरेज के बजाय शुगर फ्री पेय पदार्थों की तरफ ज्यादा दे रहे हैं।

    चूंकि वहां पर चाय के प्रति जागरूकता और लोकप्रियता बढ़ रही है तो इससे उम्मीद जताई जा रही है कि भविष्य में भारतीय चाय उत्पादकों के लिए अमेरिका एक बड़ा बाजार हो सकता है।

    हालांकि ऐसा नहीं है कि इसका फायदा केवल भारतीय चाय उद्योग की ही मिलेगा बल्कि अमेरिकी चाय उद्योग को भी इसका भरपूर फायदा मिलने की बात कही जा रही है। आईबीआईएस वल्र्ड द्वारा जारी एक रिपोर्ट में बताया गया है कि देश में बेरोजगारी में कमी आने और उपभोक्ता विश्वास बढऩे से चाय उद्योग को फायदा होने की संभावना है।

    इसके कारण पिछले पांच सालों में ऐसा पहली बार होगा जब उद्योग के रेवेन्यू में 1.9 फीसदी की बढ़ोतरी होने की संभावना है। और यह एक अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच सकता है। हालांकि वैश्विक स्तर पर बनी अनिश्चितता के कारण रेवेन्यू में वृद्धि की गति धीमी रह सकती है।

    जानकारों का कहना है कि अमेरिका में जिस हिसाब से चाय की मांग में बढ़ोतरी होगी उससे इस क्षेत्र में नए लोगों के लिए संभावना बनेगी। यही स्थिति भारत के लिए फायदेमंद है। अगर अमेरिका के बाजार में अवसर पैदा होते हैं तो उसका सीधा फायदा भारतीय चाय उद्योग को होगा क्योंकि चाय उत्पादन के मामले में भारत का दुनिया में पहला स्थान है और यहां पर सभी क्वालिटी की चाय का उत्पादन किया जाता है।

    हालांकि अगर अमेरिका की बात करे तो उसे भी कई तरह से भारतीय निवेश का फायदा मिलेगा। अगर भारतीय कंपनियां अमेरिका में चाय का कारोबार करती हैं तो इससे वहां पर रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे और साथ ही विज्ञापन आदि से वहां रेवेन्यू भी पैदा होगा।

    अमेरिका में पिछले कुछ समय से लोगों का स्वास्थ्य लगातार खराब हो रहा है और जनसंख्या के एक बड़े भाग को मोटापे का सामना भी करना पड़ रहा है। इन दिक्कतों का एक बड़ा कारण कोक जैसे पेय पदार्थों को माना जा रहा है।

    इसके कारण वहां पर लोग अपने स्वास्थ्य और खानपान को लेकर ज्यादा सजग हो रहे हैं। लोगों में जागरूकता आने का एक बड़ा कारण यह भी है कि वहां सरकार और कई सारी स्वंय सेवी संस्थाएं इसे लेकर बड़े पैमाने पर विज्ञापन अभियान चला रही हैं। अब लोग कोक जैसे पेय पदार्थों के मुकाबले चाय और विशेष रूप से ग्रीन हर्बल चाय को प्राथमिकता दे रहे हैं।

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY