Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Theme »Automobile» High Stakes Of Sports Cars Companies

    स्पोट्र्स कारों पर कंपनियों का ऊंचा दांव

    स्पोट्र्स कारों पर  कंपनियों का ऊंचा दांव

    बीते साल का हॉट सेगमेंट
    : भारतीय ग्राहकों का रुख एसयूवी की तरफ बढ़ा
    : डीजलचालित इस प्रीमियम कार का खासा आकर्षण
    : कई कंपनियों ने अपने बेहतरीन उत्पाद उतारे इस वर्ग में
    : ग्राहकों को प्रीमियम सेडान के बजाय एसयूवी ज्यादा पसंद
    : एसयूवी या कांपेक्ट एसयूवी ने सेडान का हिस्सा हथियाया
    : इसी कारण पिछले साल प्रीमियम सेडान श्रेणी में बढ़ोतरी नहीं हुई

    भारतीयकार बाजार अब अन्य विकसित देशों की तरह बड़ी कारों यानि स्पोट्र्स यूटिलिटी व्हीकल (एसयूवी) की तरफ रुख कर रहा है। यही वजह है कि 2012 में देश में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी जिन कारों की श्रेणी में देखी गई है, उनमें एसयूवी टॉप पर हैं।

    2012 में रेनॉ की डस्टर हो या महिंद्रा की एक्सयूवी 500, तकरीबन सभी लांच होने वाली एसयूवी का पूरे साल भर बोलबाला रहा है। वहीं, अगर बात 2013 की करें तो मौजूदा साल में देश-दुनिया की कई दिग्गज कंपनियां अपनी एसयूवी बाजार में उतारने की तैयारियां कर रही हैं। लिहाजा, 2013 में तकरीबन सभी कार निर्माता कंपनियों का मुख्य फोकस एसयूवी या एमपीवी वाहनों पर ही रहेगा।

    भारतीय ग्राहकों के एसयूवी बाजार की तरफ तेजी से रुख करने की सबसे बड़ी वजह रही है 2012 में डीजल वाहनों का बोलबाला। पेट्रोल के मुकाबले डीजल की कीमतों में अंतर के चलते ग्राहकों ने तेजी के साथ रुख किया। वहीं, दूसरी ओर कई कंपनियों ने अपने बेहतरीन उत्पाद एसयूवी श्रेणी में पेश किए।

    लिहाजा, ग्राहकों ने प्रीमियम सेडान श्रेणी की कारों के बजाए नई-नवेली एसयूवी को तरजीह दी। वहीं, अगर भारतीय कार बाजार पर गौर करें तो एसयूवी या कांपेक्ट एसयूवी वाहन तेजी क साथ प्रीमियम सेडान श्रेणी की कारों की बाजार हिस्सेदारी हथिया रहे हैं।

    यही वजह रही कि 2012 में देश में प्रीमियम सेडान श्रेणी में बढ़ोतरी नहीं हुई। प्रीमियम सेडान श्रेणी और एसयूवी की कीमतें तकरीबन बराबर होती हैं। वहीं, हाल ही में जो एसयूवी बाजार में उतारी गई हैं, वह काफी हद तक प्रीमियम वाहनों का फील ग्राहकों को देती हैं। ऐसे में ग्राहक इन बड़े वाहनों को ज्यादा तरजीह दे रहे हैं।

    आठ-दस एसयूवी देंगी दस्तक
    2013के दौरान कम से कम 8-10 नई एसयूवी या फिर फेसलिफ्ट बाजार में देखने को मिलेंगे। सभी कंपनियां जल्द से जल्द अपने उत्पादों को बाजार में उतारकर सबसे तेजी के साथ उभरती इस श्रेणी में बाजार हिस्सेदारी हथियाने की रणनीति तैयार कर रही हैं। देश की सबसे बड़ी पैसेंजर कार निर्माता कंपनी मारुति सुजूकी इंडिया लिमिटेड अपनी 'एक्सए अल्फा' को बाजार में उतारने की तैयारी में है।

    सूत्रों का कहना है कि यह एसयूवी 2013 की दूसरी छमाही के दौरान भारतीय बाजार में दस्तक दे सकती है। इस एसयूवी में 1.3 लीटर डीजल इंजन हो सकता है। वहीं, निसान इंडिया भी मौजूदा साल के दौरान डस्टर प्लेटफॉर्म पर आधारित अपनी नई एसयूवी को बाजार में पेश करने की तैयारी में है।

    निसान और रेनॉ साझेदारी में निर्माण करती हैं और अपने प्लेटफॉर्म भी साझा करती हैं। लिहाजा, डस्टर की सफलता के बाद से ही निसान इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर अपनी एसयूवी लांच करने की तैयारियों में जुटी हैं। निसान इंडिया 2013 के अंत तक अपनी एसयूवी बाजार में उतार सकती है।

    वहीं, देश की दूसरी सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी ह्युंडई मोटर इंडिया लिमिटेड अपनी मौजूदा एसयूवी 'सेंटा फी' को नए अवतार में पेश कर सकती है। इसके अलावा 2013 में एसयूवी बाजार में सबसे बहुप्रतीक्षित लांच फोर्ड की तरफ से होगा।

    कंपनी अपनी कांपेक्ट एसयूवी 'ईकोस्पोर्ट' को साल की पहली छमाही के दौरान बाजार में उतारने की तैयारी में है। वहीं, देश के यूटिलिटी बाजार की सबसे बड़ी कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा अपनी एसयूवी 'थार' को नए रूप में बाजार में उतार सकती है। इसके अलावा टाटा मोटर्स लिमिटेड के बारे में भी खबरें हैं कि कंपनी 'इंडिका विस्टा' प्लेटफॉर्म पर एक कांपेक्ट एसयूवी लांच करने पर विचार कर रही है।

    इनके अलावा इतालवी कार निर्माता कंपनी फिएट भारत में अपने जीप ब्रांड के तहत दो एसयूवी उतारने की तैयारी में है। कंपनी जीप रैंगलर और ग्रांड चैरोके को भारतीय बाजार में कंप्लीट बिल्ट-अप यूनिट (सीबीयू) के तौर पर लांच करने की तैयारी में है। यह दोनों ही वाहन 2013 के दौरान भारत में नजर आएंगे।


    लांच होने वाली नई एसयूवी
    कंपनी    वाहन         
    मारुति    एक्सए अल्फा
    ह्युंडइ    नई सेंटा फी
    निसान    डस्टर आधारित एसयूवी
    फोर्ड    ईकोस्पोर्ट
    महिंद्रा    नई थार
    टाटा    इंडिका विस्टा आधारित एसयूवी

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY