पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Market Watch
  • SENSEX52574.460.44 %
  • NIFTY15746.50.4 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47005-0.25 %
  • SILVER(MCX 1 KG)67877-1.16 %

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ओला इलेक्ट्रिक में सॉफ्ट बैंक ने 25 करोड़ डॉलर का निवेश किया, वैल्यूएशन 1 अरब डॉलर हुआ

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • इतने वैल्यूएशन वाली कंपनियां यूनिकॉर्न कहलाती हैं, पेटीएम और जोमैटो भी इसी क्लब में हैं
  • ओला इलेक्ट्रिक मोबिलिटी, ओला की इलेक्ट्रिक व्हीकल बिजनेस फर्म

नई दिल्ली. ओला इलेक्ट्रिक मोबिलिटी फर्म में जापान के सॉफ्ट बैंक ने 25 करोड़ डॉलर (1725 करोड़ रुपए) का निवेश किया है। इस निवेश से ओला इलेक्ट्रिक का वैल्यूएशन 1 अरब डॉलर (6900 करोड़ रुपए) हो गया है। वह फ्लिपकार्ट, जोमैटो, पेटीएम और अपनी पेरेंट कंपनी ओला की तरह देश के यूनिकॉर्न क्लब में शामिल हो गई है। यूनिकॉर्न उन कंपनियों को कहा जाता है जिनकी वैल्यू कम से कम 1 अरब डॉलर हो।

1) रतन टाटा भी ओला इलेक्ट्रिक के निवेशक हैं

मई में टाटा सन्स के चेयरमैन एमेरिटस रतन टाटा ने भी ओला इलेक्ट्रिक में निवेश किया था। कंपनी ने टाटा के निवेश की रकम नहीं बताई थी। रतन टाटा का ओला इलेक्ट्रिक की पेरेंट कंपनी ओला में भी निवेश है। सॉफ्टबैंक ओला का सबसे बड़ा निवेशक है।

ओला इलेक्ट्रिक मोबिलिटी ने इस साल मार्च में टाइगर ग्लोबल और मेट्रिक्स इंडिया के प्रमुख निवेश के जरिए 400 करोड़ रुपए जुटाए थे।

ओला इलेक्ट्रिक ने पिछले साल मिशन इलेक्ट्रिक का ऐलान किया था। इसका मकसद 2021 तक 10 लाख इलेक्ट्रिक वाहन तैयार करना है। फिलहाल कंपनी चार्जिंग सॉल्यूसंश, बैटरी स्वैपिंग स्टेशन और टू-थी-फोर व्हीलर सेगमेंट में इलेक्ट्रिक वाहन तैयार करने पर काम कर रही है।

खबरें और भी हैं...