पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Business News
  • National
  • Farm Laws Repealed LIVE Update; Rakesh Tikait Kisan Andolan | Farmers Celebrate At Uttar Pradesh Ghazipur Border

कृषि कानून वापसी LIVE:ओवैसी बोले- मोदी के अहंकार ने 700 किसानों की जान ली; सड़क पर उतरी जनता, तो डर गई सरकार

नई दिल्ली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पिछले एक साल से किसान आंदोलन की वजह बने तीनों नए कृषि कानून केंद्र सरकार ने वापस ले लिए हैं। AIMIM प्रमुख असद्दुदीन ओवैसी ने कहा कि पहले दिन से ही विपक्ष कहता रहा है कि तीनों कृषि कानून असंवैधानिक हैं। मोदी सरकार को कोई अधिकार नहीं था कि वे ऐसे कानून बनाते। इन्हें सिर्फ मोदी के अहंकार की तुष्टि के लिए बनाया गया, जिसकी वजह से 700 किसानों की जान गई।

अगर मोदी अपना अहंकार एक तरफ रखकर संविधान के हिसाब से काम करते तो न यह कानून बनते और न किसानों की जान जाती। यह फैसला देर से लिया गया है। मैंने हमेशा कहा है कि जब जनता सड़क पर उतरकर प्रदर्शन करती है, तो यह सरकार डर जाती है। यह सभी किसानों की जीत है।

अखिलेश यादव ने कहा- यह अहंकार की हार
प्रधानमंत्री के ऐलान के बाद सपा नेता अखिलेश यादव ने कहा कि किसानों के प्रयासों की आखिरकार जीत हुई है। यह अहंकार की हार और किसानों की, गणतंत्र की जीत है। लोग आगामी चुनावों में केंद्र सरकार को माफ नहीं करेंगे। यह झूठी माफी किसी काम नहीं आएगी। जिन्होंने माफी मांगी, उन्हें हमेशा के लिए राजनीति भी छोड़ देनी चाहिए।

कृषि कानूनों को वापस लेने के फैसले से नाराज कंगना
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कानून वापस लेने का फैसला किया है। सरकार के इस फैसले से एक्ट्रेस कंगना रनोट निराश हैं। इस पर अपने कंगना ने अपने विचार सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर किया है। कंगना ने लिखा कि यह बेहद शर्मनाक और अनुचित है। साथ ही उन्होंने इंदिरा गांधी की फोटो शेयर करके उन्हें बर्थडे विश भी किया। पूरी खबर यहां पढ़ें...

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने भी कसा तंज
चिदंबरम ने कहा कि जो लोकतांत्रिक विरोध से हासिल नहीं किया जा सकता, वह आने वाले चुनावों के डर से हासिल किया जा सकता है। तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की प्रधानमंत्री की घोषणा नीति परिवर्तन या हृदय परिवर्तन से प्रेरित नहीं है। यह चुनाव के डर से प्रेरित है!

कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा- 7 सालों में किसानों लिए ढेर सारी स्कीम लाई सरकार
केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि देश इस बात का गवाह है कि मोदी जी के प्रधानमंत्री बनने के बाद सरकार हमेशा से कृषि और किसानों के लिए संकल्पित रही है, जिस वजह से पिछले 7 सालों में किसानों के फायदे के लिए ढेर सारी स्कीम शुरू की गई।

गृह मंत्री ने की प्रधानमंत्री की तारीफ
प्रधानमंत्री के ऐलान के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने उनकी तारीफ की है। शाह ने कहा- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कृषि कानून वापस लेने के ऐलान का स्वागत करता हूं। उनका कदम एक कुशल राजनेता की पहचान है। केंद्र सरकार किसानों की सेवा करती रहेगी और उनका साथ देती रहेगी।

प्रियंका गांधी वाड्रा बोलीं- चुनाव आया तो माफी मांग रहे हैं
कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा- आपकी पार्टी के नेताओं ने किसानों का अपमान करते हुए उन्हें आतंकवादी, देशद्रोही, गुंडे, उपद्रवी कहा, आपने खुद आंदोलनजीवी बोला। उन पर लाठियां बरसाईं, उन्हें गिरफ्तार किया। अब चुनाव में हार दिखने लगी तो आपको अचानक इस देश की सच्चाई समझ में आने लगी। आपकी नीयत और आपके बदलते हुए रुख पर विश्वास करना मुश्किल है।

अरविंद केजरीवाल बोले- आज के दिन बड़ी खुशखबरी मिली
आज प्रकाश दिवस के दिन कितनी बड़ी ख़ुशख़बरी मिली। तीनों क़ानून रद्द। 700 से ज़्यादा किसान शहीद हो गए। उनकी शहादत अमर रहेगी। आने वाली पीढ़ियां याद रखेंगी कि किस तरह इस देश के किसानों ने अपनी जान की बाज़ी लगाकर किसानी और किसानों को बचाया था। मेरे देश के किसानों को मेरा नमन।

मायावती ने कहा- मरने वाले किसानों के परिवार को मदद दे सरकार
बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने कहा- सरकार को बहुत पहले ही यह फैसला ले लेना चाहिए था। अब सरकार से अपील है कि जाे किसान शहीद हुए उन्हें उचित मदद दे, उनके परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दे।

राहुल गांधी ने कहा- अन्याय के खिलाफ ये जीत मुबारक हो!
राहुल गांधी ने अपना एक पुराना वीडियो ट्वीट करके लिखा कि देश के अन्नदाता ने सत्याग्रह से अहंकार का सर झुका दिया। अन्याय के खिलाफ ये जीत मुबारक हो!

कांग्रेस के महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया से कहा कि मोदी सरकार ने आज अपना अपराध स्वीकार किया है। अब जनता इस अपराध की सजा तय करेगी। इस फैसले के पीछे भाजपा का यूपी और पंजाब समेत 5 राज्यों में चुनाव हारने का डर दिख रहा है।

बीकेयू-भानू के अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह ने कहा- हम इस कदम का स्वागत करते हैं। किसान विरोधी नीतियों की वजह से पिछले 75 साल से किसान कर्ज के बोझ तले दबकर मर रहे थे। मैं पीएम मोदी से अपील करता हूं करता हूं कि एक फार्म कमेटी बनाएं और उसे फसल के रेट तय करने दें। किसी दिन ऐसे ही घोषणा करके सभी किसानों के कर्ज भी माफ कर देने चाहिए।

अमरिंदर सिंह ने मोदी को शुक्रिया कहा
पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस से हाल ही में अलग हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने हर पंजाबी की मांग सुनी और गुरु नानक जयंती के पावन पर्व पर तीनों काले कृषि कानूनों को वापस लिया।

किसान यूनियन के अध्यक्ष राकेश टिकैत ने कहा कि हम तब तब आंदोलन वापस नहीं लेंगे, जब तक कानूनों को संसद में रद्द नहीं किया जाएगा।

हरियाणा के कृषि मंत्री ने लिया यूटर्न
कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के साथ ही नेताओं का रंग भी बदलने लगा है। हरियाणा के कृषि मंत्री जेपी दलाल ने आंदोलनकारियों को किसान भाई बताते हुए हाथ जोड़कर उनसे खुशी-खुशी घर वापसी करने की अपील की है। इससे दो दिन पहले ही मंत्री दलाल इस आंदोलन को कांग्रेस समर्थित बता चुके हैं और आंदोलनकारियों के बारे में विवादित टिप्पणी कर चुके हैं। पूरी खबर यहां पढ़ें...

किसान नेता गुरनाम चढूनी की पत्नी बोलीं- कृषि कानून वापस लेना हवाई फायर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऐलान को आंदोलन की अगुआई में शामिल किसान नेता गुरनाम चढूनी की पत्नी बलविंदर कौर ने हवाई फायर बताया है। बलविंदर ने निशाना साधा और कहा कि MSP मिलने और शहीद किसानों की शहादत को सम्मान मिलने तक आंदोलन जारी रहेगा। किसान किसी भी सूरत में चुनावों में भाजपा को वोट नहीं करेगा। पूरी खबर यहां पढ़ें..

ममता बनर्जी ने कहा- उन सभी किसानों को मेरी हार्दिक बधाई जिन्होंने बिना रुके लड़ाई लड़ी और जिस क्रूरता से भाजपा ने आपको ट्रीट किया उससे आप नहीं डरे। यह आपकी जीत है।

गाजीपुर पर किसानों ने मिठाई खाई, किसान जिंदाबाद का नारा लगाया

कांग्रेस ने ट्वीट किया- सरकार का अभिमान टूट गया और किसान जीत गए।

AAP ने ट्वीट किया- आंदोलन में मरने वालों के परिवार से माफी मांगे मोदी

आम आदमी पार्टी ने कहा कि यह किसानों के अभियान की बड़ी जीत है। मोदी सरकार ने आगामी चुनाव में हार के डर से 3 काले कृषि कानून वापस ले लिए हैं। पीएम मोदी को उन किसानों के परिवार से माफी मांगनी चाहिए जिन्होंने न्याय की लड़ाई में अपनी जान गंवाई है।

नवजोत सिद्धू ने कहा- किसानों की कुर्बानी रंग लाई है
पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिद्धू ने कहा कि कृषि कानूनों को वापस लेना ही सही दिशा में कदम है। किसानों मोर्चा के सत्याग्रह को ऐतिहासिक सफलता मिली है। पूरी खबर यहां पढ़ें..

भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने कहा- इसे कहते हैं जिम्मेदार सरकार