• Home
  • Market
  • Stock market open with heavy fall between Coronavirus infection and lockdown on 23 March 2020

इतिहास की सबसे बड़ी 3934 अंकों की गिरावट, इस साल अब तक 15325 अंक गिरा; मार्च में 12316 पॉइंट नीचे

  • सेंसेक्स में 12.91% की गिरावट और निफ्टी 12.7% की गिरावट के साथ बंद
  • 10 दिन में दूसरी बार लोअर सर्किट लगने से 45 मिनट के लिए ट्रेडिंग रोकी थी
  • देश के कई हिस्सों में 31 मार्च तक लॉकडाउन घोषित

Moneybhaskar.com

Mar 23,2020 04:21:16 PM IST

मुंबई. कोरोनावायरस फैलने का असर आज शेयर बाजार पर साफ दिखा। तेज गिरावट के साथ खुले बाजार में शुरुआती आधे घंटे के अंदर ही लोअर सर्किट लगाना पड़ा। हालांकि, 45 मिनट बाद बाजार में ट्रेडिंग फिर से शुरू हुई तो गिरावट और बढ़ गई। कारोबार कं अंत में सेंसेक्स 3934.72 अंक गिरकर 25,981.24 पर और निफ्टी 1,135.20 पॉइंट नीचे 7,610.25 पर बंद हुआ। यह सेंसेक्स के इतिहास की सबसे बड़ी गिरावट है। इससे पहले 13 मार्च को भी बाजार में 3389 पॉइंट की गिरावट आई थी। 12 मार्च को बाजार 3204 अंक नीचे गिरा था। मार्च महीने में सेंसेक्स अब तक 12,316 अंक नीचे गिर चुका है। महीने के दौरान बाजार अब तक करीब 33.2% फीसदी गिर चुका है।

बाजार में गिरावट की 3 वजह

1. कोरोनावायरस का संक्रमण फैलने की वजह से देश के कई राज्यों में 31 मार्च तक लॉकडाउन कर दिया गया है।

2. विदेशी निवेशक भारतीय बाजार से लगातार पैसा निकाल रहे हैं। करीब दो हफ्ते में वे 50,000 करोड़ रुपए के शेयर बेच चुके हैं।

3. कोरोनावायरस का संक्रमण फैलने के डर से दुनियाभर के बाजारों में गिरावट आ रही है। हॉन्गकॉन्ग के बाजार में 5% गिरावट देखी गई।

10 दिन में दूसरी बार सेंसेक्स में लोअर सर्किट लगा

  • सबसे पहला मौका 21 दिसंबर 1990 में आया था, जब सेंसेक्स में 16.19% की गिरावट दर्ज की गई थी। इस गिरावट के बाद शेयर बाजार 1034.96 के स्तर पर पहुंच गया था।
  • सेंसेक्स में दूसरी सबसे बड़ी गिरावट 28 अप्रैल 1992 में आई थी। तब सेंसेक्स में 12.77% की गिरावट दर्ज की गई थी। उस दिन शेयर बाजार 3896.90 के स्तर पर बंद हुआ था।
  • तीसरा मौका था 17 मई 2004 में आया, जब शेयर बाजार में 11.14% की गिरावट दर्ज की गई। तब शेयर बाजार 4505.16 के स्तर पर जाकर बंद हुआ था।
  • 24 अक्टूबर 2008 को सेंसेक्स में 10.96% की गिरावट दर्ज की गई थी। उस दिन शेयर बाजार 8701.07 के स्तर पर बंद हुआ था।
  • 13 मार्च 2020 को भी 10% की गिरावट के कारण सर्किट लगा था, लेकिन बाद के कारोबार में सेंसेक्स सुधार आ गया था। उस दिन सेंसेक्स 34,103.48 पॉइंट पर बंद हुआ था।

सेंसेक्स की 10 बड़ी गिरावट में से 6 इसी महीने

तारीख सेंसेक्स में गिरावट
23 मार्च 2020 3934

13 मार्च 2020

3389

12 मार्च 2020

3204

16 मार्च 2020

2919

9 मार्च 2020

2467

22 जनवरी 2008

2273

21 जनवरी 2008

2062

24 अगस्त 2015

1741

28 फरवरी 2020

1526

6 मार्च 2020

1460

सेंसेक्स में 10 दिन में दूसरी बार लोअर सर्किट लगा

सोमवार को शुरुआती एक घंटे के कारोबार में ही सेंसेक्स 10% गिर गया। इस वजह से लोअर सर्किट लिमिट लागू हो गई और 45 मिनट के लिए ट्रेडिंग रुक गई। बाजार फिर से खुला तो भी गिरावट नहीं थमी। इससे पहले 13 मार्च को भी लोअर सर्किट लगा था, लेकिन बाजार फिर से खुला तो रिकवरी हो गई और बढ़त के साथ बंद हुआ था।

बीएसई पर 550 शेयरों में लोअर सर्किट

सोमवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर 1953 शेयरों में गिरावट दर्ज की गई। सिर्फ 203 शेयरों में बढ़त देखी गई, जबकि 122 शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं दिखा। 550 शेयरों में लोअर सर्किट लगने की वजह से उन कंपनियों के शेयरों में ट्रेडिंग रोक दी गई। 51 कंपनियों के शेयरों में अपर सर्किट की वजह से ट्रेडिंग रोकनी पड़ी।

गिरावट रोकने के लिए सरकार और सेबी के कदम भी बेअसर

शेयर बाजार के रेग्युलेटर सेबी ने पिछले हफ्ते शॉर्ट सेलिंग के नियम सख्त किए थे। इससे उम्मीद बनी कि शायद बाजार में गिरावट कुछ कम हो जाए, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। कोरोनावायरस की वजह से आर्थिक गतिविधियों में सुस्ती को देखते हुए सरकार ने भी मोबाइल फोन और फार्म इंडस्ट्री के लिए राहत के ऐलान किए, लेकिन बाजार पर कोई असर नहीं दिखा। विदेशी निवेशक लगातार बिकवाली कर रहे हैं। वे दो हफ्ते में बाजार से 50,000 करोड़ रुपए निकाल चुके हैं।

लोअर सर्किट यानी, बाजार का बेहद बुरा वक्त

जुलाई 2001 की सेबी की गाइडलाइन के बाद सर्किट की शुरुआत हुई थी। भारतीय शेयर बाजार में अचानक आए बड़े उतार-चढ़ाव को थामने करने के लिए सर्किट लगाया जाता है। ये दो तरह के होते हैं। अपर सर्किट और लोअर सर्किट। अपर सर्किट तब लगाया जाता है, जब बाजार एक तय सीमा से ज्यादा बढ़ जाता है। और जब उसी सीमा से ज्यादा घटता है तो लोअर सर्किट का इस्तेमाल किया जाता है। सेबी ने सर्किट के लिए तीन ट्रिगर लिमिट 10%, 15% और 20% तय की हैं। यानी उस वक्त बाजार जितने पर है, उसका 10%, 15% और 20% घटने-बढ़ने पर सर्किट लगता है। शुक्रवार को बाजार में तेज गिरावट के बाद सेंसेक्स में लोअर सर्किट लगाया था।

  • जब दोपहर 1 बजे से पहले शेयर बाजार 10% तक गिर या चढ़ जाए तो ट्रेडिंग 45 मिनट के लिए रोक दी जाती है।
  • अगर 1 बजे के बाद 10% उतार-चढ़ाव होता है तो कारोबार को केवल 15 मिनट के लिए रोका जाता है।
  • अगर दोपहर 1 बजे से पहले शेयर बाजार में 15% उतार-चढ़ाव आए तो ट्रेडिंग 1 घंटे 45 मिनट के लिए रोक दी जाती है।
  • अगर ट्रेडिंग के दौरान किसी भी वक्त शेयर बाजार में 20% का उतार-चढ़ाव आता है तो बचे हुए दिन के लिए ट्रेडिंग बंद कर दी जाती है।

बीएसई पर करीब 85 फीसदी कंपनियों के शेयरों में गिरावट रही

  • बीएसई का मार्केट कैप 109 लाख करोड़ रुपए रहा
  • 2,401 कंपनियों के शेयरों में ट्रेडिंग हुई। इसमें 233 कंपनियों के शेयर बढ़त में और 2,036 कंपनियों के शेयर में गिरावट रही
  • 14 कंपनियों के शेयर 1 साल के उच्च स्तर और 1180 कंपनियों के शेयर एक साल के निम्न स्तर पर रहे
  • 57 कंपनियों के शेयर में अपर सर्किट और 671 कंपनियों के शेयर में लोअर सर्किट लगा

बाजार के मार्केट कैप में 10 लाख करोड़ रुपए की कमी

सेंसेक्स में तेज गिरावट के कारण बीएसई में लिस्टेड कंपनियों के मार्केट कैप में 10 लाख करोड़ रुपए की कमी आ गई है। शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद मार्केट कैप 116.09 लाख करोड़ रुपए था, जो अब घटकर 105.91 लाख करोड़ रुपए पर आ गया है।

कच्चे तेल में 2.3% गिरावट

कोरोनावायरस की वजह से तेल की मांग घटने, सऊदी अरब और रूस के बीच प्राइस वॉर छिड़ने की वजह से कच्चे तेल में अस्थिरता बनी हुई है। सोमवार को ब्रेंट क्रूड का भाव 2.3% गिरकर 26 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। एक बार 5% तक गिरावट आ गई थी।

रुपया पहली बार 76 के नीचे फिसला

डॉलर के मुकाबले रुपया 75.69 पर खुला और कुछ ही देर में 76 के नीचे फिसल गया। यह अब तक का सबसे निचला स्तर है।

शुक्रवार को बाजार में तेजी रही थी

सरकार और आरबीआई द्वारा उठाए गए कदमों के कारण शुक्रवार को देश के बाजार बढ़त में बंद हुए थे। सेंसेक्स 1627.73 अंक की बढ़त के साथ 29,915.96 अंकों पर और निफ्टी 482.00 पॉइंट बढ़कर 8,749.70 अंकों पर बंद हुआ था। वहीं अमेरिकी बाजारों में गिरावट रही थी। डाउ जोंस 913 अंकों की गिरावट के साथ 19,174 पर बंद हुआ था। इसी तरह नैस्डैक कंपोजिट 271 अंक गिरकर 6,879.52 पर बंद हुआ था। एसएंडपी 104 अंक गिरकर 2,304.92 पॉइंट पर रहा।

तेल कंपनियों के शेयरों में 8.5% तक नुकसान

लॉकडाउन की वजह से पेट्रोल-डीजल की खपत घटेगी। इस डर से निवेशक तेल कंपनियों के शेयर बेच रहे हैं।

कंपनी

शेयर में गिरावट

बीपीसीएल

8.41%

हिंदुस्तान पेट्रोलियम

6.43%

इंडियन ऑयल

4.23%

बैंकिंग सेक्टर के शेयरों में 12% तक गिरावट

एक्सिस बैंक

12.72%

आईसीआईसीआई बैंक

11.80%

एसबीआई

6.99%

बैंक ऑफ बड़ौदा

6.17%

कोटक महिंद्रा बैंक

6.15%

पीएनबी

4.97%

इप्ला लैब्स के शेयर में 18% तेजी

बाजार की गिरावट के विपरीत कुछ फार्मा कंपनियों के शेयरों में तेजी आई है। इप्का लैब्स का शेयर 18% चढ़ गया। शुक्रवार को भी करीब 8.5% की तेजी आई थी। डॉ. पैथ लैब्स के शेयर में भी 3% बढ़त देखी जा रही है।

लाइव अपडेट

03:35 PM: क्लोजिंग बेल: सेंसेक्स 3934.72 अंक गिरकर 25,981.24 पर और निफ्टी 1,110.85 पॉइंट नीचे 7,634.60 पर बंद हुआ।

03:19 PM: सेंसेक्स 13.46% डाउन, 4026.79 पॉइंट नीचे 25,889.17 पर कारोबार कर रहा है। इसमें 13.46% की गिरावट है।

03:11 PM: सेंसेक्स 3961.02 अंक गिरकर 26,004.39 पर और निफ्टी 1,124.45 पॉइंट नीचे 7,621.00 पर कारोबार कर रहा है।

02:56 PM: सेंसेक्स 3665.51 अंक गिरकर 26,250.45पर और निफ्टी 1,061.40 पॉइंट नीचे 7,684.05 पर कारोबार कर रहा है।

02:44 PM: Down सेंसेक्स 3570.23 अंक गिरकर 26,345.73 पर और निफ्टी 1,035.90 पॉइंट नीचे 7,709.55 पर कारोबार कर रहा है।

02:32 PM: Down सेंसेक्स 3482.16 अंक गिरकर 26,433.80 पर और निफ्टी 968.75 पॉइंट नीचे 7,776.70 पर कारोबार कर रहा है।

02:12 PM: सेंसेक्स 12.23% डाउन: सेंसेक्स 3657.53 पॉइंट नीचे 26,258.43 पर कारोबार कर रहा है। इसमें 12.23% की गिरावट है।

01:42 PM: Down सेंसेक्स 3368.35 अंक गिरकर 26,547.61 पर और निफ्टी 960.00 पॉइंट नीचे 7,785.45 पर कारोबार कर रहा है।

01:38 PM: निफ्टी स्मॉल कैप में 12% और निफ्टी मिड कैप में 11% की गिरावट; 21 जनवरी, 2008 के बाद आज सबसे खराब दिन

02:02 PM: Down सेंसेक्स 3558.20 अंक गिरकर 26,357.76 पर और निफ्टी 1,014.30 पॉइंट नीचे 7,731.15 पर कारोबार कर रहा है।

01:03 PM: 1PM तक का अपडेट

Down सेंसेक्स 3258.44 अंक गिरकर 26,657.52 पर पहुंचा, इसमें 10.89% की गिरावट। वहीं, निफ्टी 928.85 अंक गिरकर 7,816.60 पर पहुंचा, इसमें 10.62% की गिरावट।

12:50 PM: Down सेंसेक्स 3102.17 अंक गिरकर 26,813.79 पर और निफ्टी 891.60 पॉइंट नीचे 7,853.85 पर कारोबार कर रहा है।

12:26 PM: सेंसेक्स में 12.15% की गिरावट

Down सेंसेक्स 3613.42 अंक गिरकर 26,302.54 पर और निफ्टी 1,039.95 पॉइंट नीचे 7,705.50 पर कारोबार कर रहा है।

11:53 AM: Down सेंसेक्स 3328.90 अंक गिरकर 26,587.06 पर और निफ्टी 939.85 पॉइंट नीचे 7,805.60 पर कारोबार कर रहा है।

11:42 AM: Down सेंसेक्स 3270.45 अंक गिरकर 26,645.51 पर और निफ्टी 941.95 पॉइंट नीचे 7,803.50 पर कारोबार कर रहा है।

11:29 AM: Down सेंसेक्स 3439.80 अंक गिरकर 26,476.16 पर और निफ्टी 980.20 पॉइंट नीचे 7,765.25 पर कारोबार कर रहा है।

11:17 AM: Down सेंसेक्स 3272.28 अंक गिरकर 26,643.68 पर और निफ्टी 924.55 पॉइंट नीचे 7,820.90 पर कारोबार कर रहा है।

11:02 AM: 45 मिनट बाद बाजार में ट्रेडिंग शुरू, गिरावट और बढ़ी

सेंसेक्स 3028.42 अंक गिरकर 26,887.54 पर और निफ्टी 914.50 पॉइंट नीचे 7,830.95 पर कारोबार कर रहा है।

9.58 AM: सेंसेक्स में 2991.85 अंक गिरने के बाद 26,924.11 अंकों पर पहुंचा। सेंसेक्स में लोअर सर्किट लग गया है। एनएसई 847.25 अंक या 9.69 फीसदी गिरकर 7,898.20 अंकों पर कारोबार कर रहा है। बीएसई में छठवीं बार लोअर सर्किट लगा, कारोबार 45 मिनट रोका गया

09:41 AM: Down सेंसेक्स 2790.01 अंक गिरकर 27,125.95 पर और निफ्टी 797.70 पॉइंट नीचे 7,947.75 पर कारोबार कर रहा है।

09:29 AM: Down सेंसेक्स 2442.26 अंक गिरकर 27,473.70 पर और निफ्टी 694.35 पॉइंट नीचे 8,051.10 पर कारोबार कर रहा है।

09:22 AM: Down सेंसेक्स 2150.31 अंक गिरकर 27,765.65 पर और निफ्टी 615.10 पॉइंट नीचे 8,130.35 पर कारोबार कर रहा है।

X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.