पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

PK पर 1 लाख का इनाम घोषित:सॉल्वर गैंग के सरगना की बिहार से त्रिपुरा तक हो रही तलाश, वाराणसी में NEET परीक्षा में कराया था धांधली का प्रयास

वाराणसी7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नीलेश सिंह उर्फ PK, एक लाख का इनामी। (फाइल फोटो) - Money Bhaskar
नीलेश सिंह उर्फ PK, एक लाख का इनामी। (फाइल फोटो)

वाराणसी में मेडिकल प्रवेश परीक्षा NEET-UG में धांधली का प्रयास कराने वाले सॉल्वर गैंग के सरगना नीलेश सिंह उर्फ प्रेम कुमार उर्फ PK पर पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने 1 लाख रुपए का इनाम घोषित किया है। बिहार के छपरा जिले के एकमा थाना अंतर्गत सेंधवा गांव का मूल निवासी PK पटना में पाटलिपुत्र में मकान बनवा कर रहता था। PK के खिलाफ वाराणसी की अदालत से गैर जमानती वारंट जारी है। उसकी तलाश में वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच सहित 3 टीमें बिहार, बंगाल और त्रिपुरा में दबिश दे रही हैं।

अब तक गिरफ्तार किए गए 7 आरोपी

12 सितंबर 2021 को वाराणसी के सारनाथ क्षेत्र स्थित स्कूल में NEET-UG परीक्षा के दौरान सॉल्वर गैंग की साजिश का भंडाफोड़ हुआ था। त्रिपुरा की हिना बिश्वास की जगह NEET-UG की परीक्षा दे रही बीएचयू की बीडीएस की छात्रा जूली कुमारी को गिरफ्तार कर परीक्षा केंद्र से ही पुलिस ने उसकी मां बबिता देवी को भी पकड़ा था। पूछताछ में दोनों से मिली जानकारी के आधार पर KGMU के एमबीबीएस के छात्र सहित अब तक 7 आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। वहीं, सॉल्वर गैंग का सरगना PK, हिना बिश्वास सहित अन्य आरोपी अपने-अपने घर छोड़ कर भागे हुए हैं।

ए. सतीश गणेश, पुलिस कमिश्नर, वाराणसी।
ए. सतीश गणेश, पुलिस कमिश्नर, वाराणसी।

गैंग के 2 सदस्यों पर घोषित है इनाम

पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने PK के गिरोह के लखनऊ निवासी डॉ. अफरोज और त्रिपुरा निवासी मृत्युंजय देबनाथ पर बीती 16 नवंबर को 20-20 हजार रुपए का इनाम घोषित किया था। उधर, NEET-UG परीक्षा से पहले सॉल्वर गैंग के संपर्क में आए 3 राज्यों के 16 कैंडिडेट का स्टेटमेंट वीडियो कैमरे के सामने दर्ज किए जाने की कार्रवाई जारी है। पुलिस कमिश्नर के अनुसार पूछताछ पूरी होने के बाद सामने आए तथ्यों के आधार पर इन कैंडिडेट के खिलाफ आगे की कार्रवाई की जाएगी। इन सभी 16 कैंडिडेट का रिजल्ट रोकने के लिए मेडिकल प्रवेश परीक्षा आयोजित करने वाली नेशनल टेस्टिंग एजेंसी को पहले ही पत्र भेजा जा चुका है।

तेजी से करें कार्रवाई, सभी को जल्द पकड़ें

पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बताया कि PK और उसके गिरोह से जुड़े लोगों के खिलाफ सारनाथ थाने में 2 मुकदमे दर्ज हैं। सारनाथ थाना प्रभारी को कहा गया है कि वांछित सभी आरोपियों की धरपकड़ जल्द की जाए। सभी आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करने के साथ ही उनकी गैंग रजिस्टर्ड की जाएगी। सभी की संपत्तियां भी गैंगस्टर एक्ट के तहत जब्त की जाएंगी। आरोपी देश के किसी भी कोने में छुप लें, लेकिन वह पुलिस की गिरफ्त में आने से बच नहीं पाएंगे।

NEET में धांधली, सरगना परिवार संग कोलकाता भागा: सॉल्वर गैंग के सरगना की तलाश में UP पुलिस का पटना और छपरा में छापा, पटना में खुद को बताता था डॉक्टर; अब तक गैंग के 6 दबोचे गए