पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वाराणसी में 53 एमएम बारिश, कड़कती बिजली ने डराया:काशी में हुई मानसून की पहली बारिश; सड़कों और गलियों में लबालब पानी

वाराणसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वाराणसी में इतनी जोरदार बारिश थी कि लोग घर की खिड़कियां और दरवाजे खोलने से डर रहे थे। - Money Bhaskar
वाराणसी में इतनी जोरदार बारिश थी कि लोग घर की खिड़कियां और दरवाजे खोलने से डर रहे थे।

वाराणसी में दोपहर साढ़े तीन बजे से साढ़े 6 बजे तक घनघोर बारिश हुई। इस दौरान वाराणसी में 53 एमएम की बारिश दर्ज हुई। वहीं, बादल की घोर गर्जना और कड़कती बिजली ने लोगों को खूब डराया। पूरे वाराणसी शहर की सड़कों और गलियों में पानी-पानी हो गया। वहीं नाले-नालियां सब भरकर बहने लगीं।

वाराणसी में बारिश के दौरान नजारा।
वाराणसी में बारिश के दौरान नजारा।

बारिश बंद होते ही शहर की सड़कों पर पानी लगने से ट्रैफिक जाम हो गया। आज बारिश के साथ बिजली इतनी तेज कड़क रही थी कि लोग डर के मारे घरों की खिड़कियां और दरवाजे बंद कर लिए। पूरे तीन घंटे तक लोग घर में कैद रहे। कोई भी व्यक्ति छत पर भी नहीं दिखा।

आज सुबह से दोपहर के बाद अचानक बादल गरजने लगे। हवा की स्पीड काफी तेज हो गई। देखते-ही-देखते आसमान में काले बादल छा गए और बिजली कड़कने लगी। इससे काशीवासियों को दिन भर की उमस और तपिश से राहत मिल गई है। इसी के साथ काशी में मानसून की पहली बारिश भी शुरू हो गई। पूरे जिले में तेज हवा के साथ बारिश हो रही है। वहीं कहीं-कहीं अभी तेज हवा और बादल ही गरज रहे हैं। इससे पहले बीते चार दिनों से मौसम का पारा चढ़ा हुआ है।

वाराणसी में सड़कों पर बारिश पानी भर गया।
वाराणसी में सड़कों पर बारिश पानी भर गया।
वाराणसी में आज नमी काफी ज्यादा रही। इसलिए लग रहा था कि बारिश हो सकती है।
वाराणसी में आज नमी काफी ज्यादा रही। इसलिए लग रहा था कि बारिश हो सकती है।

आज सुबह काशी का टेंपरेचर 30°C और दोपहर में 39°C दर्ज किया गया। वहीं मैक्सिमम टेंपरेचर 40°C के पास चला गया। सुबह नमी 76% थी, अब 95% से ऊपर है। सुबह हवा 4 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से बह रही थी अब 12 किलोमीटर की स्पीड है। कई दिनों से वाराणसी में उमस और धूप ने परेशान कर रखा था। मौसम विज्ञान विभाग का अनुमान था कि आज से 30 जून तक वाराणसी में भारी बारिश हो सकती है। मगर, सुबह की धूप देखने के बाद लगा कि मौसम दिन भर काफी तपाने वाला होगा। बहरहाल, अब मौसम सुहाना होने लगा है।

वाराणसी में आज शाम 4 बजे बिजली कड़कने के साथ बारिश शुरू हो गई।
वाराणसी में आज शाम 4 बजे बिजली कड़कने के साथ बारिश शुरू हो गई।

मानसून के बादलों में मूवमेंट शुरू

मौसम विज्ञान विभाग का अनुमान हर रोज फेल हो रहे हैं। IMD यानी कि इंडियन मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट ने अनुमान लगाया है कि आज से दो-तीन तक घनघोर बारिश का अनुमान जताया गया है। काशी हिंदू विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक प्रोफेसर मनोज कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि सोमवार तक मानसून ट्रफ नहीं दिखा था। मगर आज यह ट्रफ दिख रहा है।

वाराणसी में आज सुबह काफी तेज धूप खिली थी।
वाराणसी में आज सुबह काफी तेज धूप खिली थी।

इसलिए आज दोपहर के बाद तक बारिश होने की प्रबल उम्मीद है। प्रो. श्रीवास्तव ने बताया कि दिन में भले ही बादल न दिख रहे हों, मगर बारिश अच्छी-खासी होगी। मानसून का बादल विंध्य पहाड़ी के ठीक पीछे सोनभद्र के पास रूका हुआ था। आज इसमें कई दिन बाद मूवमेंट शुरू हुआ है। इस बार मानसून के बादलों में एक पैटर्न देखने को मिल रहा है कि कई-कई जगह पहाड़ों के पास स्थिर होता जा रहा है।

एयर पॉल्यूशन 58 प्वाइंट पर
वाराणसी का एयर पॉल्यूशन थोड़ा कंट्रोल में है। आज शहर में AQI यानी कि एयर क्वालिटी इंडेक्स 58 प्वाइंट है। वाराणसी की हवा आज संतोषजनक की कटेगरी में है। आज वाराणसी का सबसे ज्यादा प्रदूषित इलाका अर्दली बाजार रहा। यहां का AQI 62 प्वाइंट रहा। वहीं, भेलूपुर का AQI 60 और BHU का 53 अंक रिकॉर्ड किया गया।