पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

8 तस्वीरों में देखें गृहमंत्री का काशी दौरा:21 माह बाद वाराणसी आए अमित शाह, बाबा विश्वनाथ के दरबार में किए दर्शन-पूजन; देश के लोगों के कल्याण की कामना की

वाराणसीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में दर्शन-पूजन करते गृहमंत्री अमित शाह। - Money Bhaskar
काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में दर्शन-पूजन करते गृहमंत्री अमित शाह।

गृहमंत्री अमित शाह 21 माह बाद रविवार की शाम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ वाराणसी पहुंचे। मिर्जापुर से उड़ान भरकर उनका हेलिकॉप्टर संपूर्णानंद संस्कृत यूनिवर्सिटी के मैदान में शाम 5:25 बजे लैंड किया। इसके बाद वह सड़क मार्ग से काशी विश्वनाथ मंदिर पहुंचे।

सावन के दूसरे सोमवार से एक दिन पहले श्री काशी विश्वनाथ का षोडशोपचार विधि से पूजन-अर्चन कर गृहमंत्री ने देश और देशवासियों के कल्याण की कामना की। इसके बाद उन्होंने काशी विश्वनाथ धाम के काम की प्रगति का निरीक्षण किया। शाम 6:55 बजे वह बाबतपुर इंटरनेशनल हवाई अड्‌डे से नई दिल्ली रवाना हो गए। गृहमंत्री के आगमन और उनके दर्शन-पूजन के मद्देनजर सुरक्षा और खुफिया एजेंसियां एलर्ट मोड में रहीं। वहीं, गृहमंत्री के उड़ान भरने के बाद शाम 7:05 बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ रवाना हुए। तस्वीरों में देखें गृहमंत्री का वाराणसी दौरा...।

काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के लिए जाते हुए गृहमंत्री अमित शाह और उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के लिए जाते हुए गृहमंत्री अमित शाह और उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के लिए जाते हुए गृहमंत्री अमित शाह और उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के लिए जाते हुए गृहमंत्री अमित शाह और उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भ गृह में दर्शन-पूजन करते हुए गृहमंत्री अमित शाह।
काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भ गृह में दर्शन-पूजन करते हुए गृहमंत्री अमित शाह।
काशी विश्वनाथ धाम का निर्माण कार्य प्राेजेक्टर के माध्यम से देखते हुए गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
काशी विश्वनाथ धाम का निर्माण कार्य प्राेजेक्टर के माध्यम से देखते हुए गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के बाद गृहमंत्री अमित शाह को स्मृति चिह्न देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के बाद गृहमंत्री अमित शाह को स्मृति चिह्न देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के मद्देनजर मुख्य द्वार पर तैनात पुलिसकर्मी।
गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के मद्देनजर मुख्य द्वार पर तैनात पुलिसकर्मी।
वाराणसी में गृहमंत्री अमित शाह के स्वागत के लिए लगाई गई होर्डिंग और तैनात पुलसकर्मी।
वाराणसी में गृहमंत्री अमित शाह के स्वागत के लिए लगाई गई होर्डिंग और तैनात पुलसकर्मी।

4:30 से 6:30 बजे तक यहां रहा रूट डायवर्जन

  • लकड़ी मंडी से चौकाघाट ओवरब्रिज की ओर कोई वाहन नहीं जाएगा।
  • लकड़ी मंडी से संस्कृत विश्वविद्यालय की ओर वाहन नहीं जाएंगे।
  • चौकाघाट चौराहा से तेलियाबाग की ओर नहीं जाने दिया जाएगा।
  • जगतगंज तिराहा से तेलियाबाग तिराहा और लहुराबीर चौराहा की ओर नहीं जाने दिया जाएगा।
  • जय सिंह चौराहा से वाहन लहुराबीर चौराहा की ओर नहीं जाएंगे।
  • मैदागिन चौराहा से कबीरचौरा व बेनिया तिराहा और गोदौलिया की ओर वाहन नहीं जाएंगे।
  • पिपलानी कटरा चौराहा से लहुराबीर चौराहा की ओर वाहन नहीं जाएंगे।
  • लहुराबीर चौराहा से वाहन चेतगंज चौराहा और बेनिया तिराहा की ओर नहीं जाएंगे।
  • बेनिया तिराहा से रामापुरा चौराहा की ओर वाहन नहीं जाएंगे।
  • गुरुबाग तिराहा से लक्सा व रामापुरा चौराहा और रामापुरा चौराहा से चेतगंज की ओर वाहन नहीं जाएंगे।
  • सोनारपुरा चौराहा से वाहन गोदौलिया की ओर नहीं जाएंगे।

15 मिनट पहले आवागमन पर लगाई जाएगी रोक
एडीसीपी ट्रैफिक विकास कुमार ने बताया कि गृहमंत्री जिस मार्ग से गुजरेंगे, उस पर उनके गुजरने से 15 मिनट पहले आमजन का आवागमन प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। शव वाहन और एंबुलेंस सभी प्रकार के प्रतिबंधों से पूरी तरह से मुक्त रहेंगे। सभी प्रकार के वाहन पास रविवार को निरस्त किए गए हैं। ट्रैफिक पुलिस कर्मियों को कहा गया है कि यातायात संचालन में किसी प्रकार की गड़बड़ी होने पर संबंधित कर्मचारी कठोर कार्रवाई की जद में आएगा।

उधर, पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बताया कि सुरक्षा की चाकचौबंद व्यवस्था की गई है। बाबतपुर एयरपोर्ट से लेकर श्री काशी विश्वनाथ मंदिर तक ड्यूटी प्वाइंट निर्धारित कर पुलिस और पीएसी के जवान तैनात किए गए हैं। पुलिसकर्मियों को ब्रीफ किया गया है कि वीवीआईपी के दौरे के कारण आमजन को किसी भी प्रकार की समस्या न होने पाए। रूट डायवर्जन और यातायात व्यवस्था का सही तरीके से संचालन किया जाए। एंबुलेंस और शव वाहन को लेकर अतिरिक्त सतर्कता बरती जाए।

खबरें और भी हैं...