पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सवा करोड़ की ब्राउन शुगर के साथ 3 तस्कर गिरफ्तार:UP-STF ने वाराणसी में मारा छापा, झारखंड से लाया गया था मादक पदार्थ; ले जाना था बाराबंकी

वाराणसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्तार आरोपी सत्येंद्र भोक्ता, कृष्ण कन्हैया और प्रभात कुमार वर्मा (बाएं से दाएं)। - Money Bhaskar
गिरफ्तार आरोपी सत्येंद्र भोक्ता, कृष्ण कन्हैया और प्रभात कुमार वर्मा (बाएं से दाएं)।

वाराणसी के कैंट रोडवेज डिपो के समीप छापा मार कर शनिवार को UP-STF की टीम ने एक कार से 1.250 किलोग्राम क्रूड ब्राउन शुगर के साथ तीन अंतरराज्यीय तस्करों को गिरफ्तार किया। बरामद ब्राउन शु्गर की कीमत 1.25 करोड़ रुपए बताई गई है और उसे झारखंड से लाया गया था।

गिरफ्त में आए तस्करों की शिनाख्त बाराबंकी जिले के ससौली थाना के हाजपुर निवासी कृष्ण कन्हैया वर्मा व कोठी थाना के मिर्जापुर के प्रभात कुमार वर्मा और झारखंड के चतरा जिले के राजपुर थाना के भौंग कुरकुटा गांव के सत्येंद्र भोक्ता के तौर पर हुई है।

तीनों के पास से 5,620 रुपए, 3 मोबाइल, 2 पैन कार्ड और 1 आधार कार्ड बरामद किया गया है। आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए तीनों आरोपियों को सिगरा थाने की पुलिस को सौंप दिया गया है।

लखनऊ से आई टीम ने की कार्रवाई

UP-STF को बाराबंकी में मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के सक्रिय होने की सूचना मिली थी। सूचना को सर्विलांस की मदद से विकसित किया गया तो पता लगा कि शनिवार को झारखंड से क्रूड ब्राउन शुगर की खेप वाराणसी लाई जाएगी। वाराणसी से फिर यूपी-32 केएक्स-8891 नंबर की कार से क्रूड ब्राउन शुगर बाराबंकी ले जाई जाएगी।

इस सूचना के आधार पर UP-STF की लखनऊ यूनिट के दरोगा अमित कुमार तिवारी के नेतृत्व में हेड कांस्टेबल घनश्याम राय व राजकुमार शुक्ला, आरक्षी शिवानंद शुक्ला और कमांडो विनोद यादव की टीम वाराणसी रवाना की गई। टीम ने कैंट रोडवेज डिपो के समीप खड़ी चिह्नित कार को घेर कर आरोपियों को पकड़ा और उनके कब्जे से ब्राउन शुगर की खेप बरामद की।

पहले भी किया गया था गिरफ्तार

कृष्ण कन्हैया ने पूछताछ में बताया कि सत्येंद्र भोक्ता द्वारा झारखंड से ब्राउन शुगर लाकर उसे दी जाती है। आज वह अपनी फोर्ड एक्सपायर कार से अपने ड्राइवर प्रभात के साथ सत्येंद्र भोक्ता से क्रूड ब्राउन शुगर लेने वाराणसी आया था। इसकी सप्लाई बाराबंकी सहित प्रदेश के अन्य जिलों में की जाती है। कृष्ण कन्हैया ने बताया कि इसके पहले भी वह मादक पदार्थ की तस्करी करने के आरोप में बाराबंकी में गिरफ्तार किया गया था।

खबरें और भी हैं...