पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मंडल में खुले 622 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर:वाराणसी के 114 स्वास्थ्य केंद्रों पर हर तरह के इलाज और जांच की सुविधा फ्री; अब शहर आने की जरूरत नहीं

वाराणसी9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पूर्वांचल के लोगों को अब हर छोटे-बड़े रोगों, जांच और वैक्सीन के लिए वाराणसी शहर में आने की जरूरत नहीं होगी। वाराणसी मंडल में आज से 622 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर शुरू किए गए हैं। वहीं कुल 831 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर अभी खोले जाने हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से बताया जा रहा है कि मरीजों की सेहत सुधारने में ये वेलनेस सेटर बहुत ही मददगार साबित होंगे। इन केंद्रों पर शुरुआती बीमारियों की पहचान कर मरीजों को उचित परामर्श, जांच, दवाएं और इलाज सब कुछ मुफ्त में मिलेगा।

हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में हीमोग्लोबिन, यूरिन द्वारा गर्भ की जांच, ब्लड ग्लूकोज, टीएलसी, डीएलसी, पेरिफेरल स्मेयर, ब्लड ग्रुपिंग, डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, फाइलेरिया, कालाजार की जांच, रैपिड सिफलिस, टायफायड टेस्ट, हेपेटाइटिस आदि जांच की सुविधा उपलब्ध होगी। इसका हर मरीज लाभ उठा सकते हैं।

सबसे अधिक गाजीपुर में खुला

वाराणसी मंडल के अपर निदेशक चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डाॅ. एसके उपाध्याय ने बताया कि वाराणसी में 114, जौनपुर में 158, चंदौली में 165 और सबसे ज्यादा गाजीपुर में 185 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर खोले जा चुके हैं। यहां पर मरीजों को पूरी तरह से फ्री में ट्रीटमेंट दिया जा रहा है। इन सभी केंद्रों पर मैटर्नल (मां) हेल्थ, बच्चे का टीकाकरण, किशोर स्वास्थ्य, डायबिटीज, ब्लड प्रेशर के साथ ही संक्रामक और गैर संक्रामक दोनों रोगों के इलाज की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा मौसमी बीमारी, टीबी, चेचक, कुष्ठ रोग, मलेरिया, दिल व टायफाइड समेत अनेक बीमारियों की शुरूआती स्टेज पर पहचान कर उपचार देने की व्यवस्था की जाएगी। वहीं जरूरत पड़ने पर मरीजों को विशेषज्ञ डॉक्टरों के पास रेफर भी किया जाएगा।

कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर की तैनाती
डॉ. उपाध्याय ने बताया कि हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में कम्युनिटी हेल्थ आॅफिसर (CHO) तैनात किए जा रहे है। ये ही रोगों की प्राथमिक स्तर पर पहचान कर मरीजों को विशेषज्ञ चिकित्सकों के पास रेफर करेंगे।

ये स्वास्थ्य सुविधाएं मिलेंगी
इन केंद्रों पर गर्भावस्था व शिशु जन्म देखभाल, परिवार नियोजन, गर्भनिरोधक व प्रजनन स्वास्थ्य देखभाल, गैर संचारी रोगों की स्क्रीनिंग, रेफरल व फॉलोअप की सुविधाएं भी दी जाएगी। हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर सिकरौल (शिवपुर) में आए अनिल कुमार मौर्या ने बताया कि पत्नी कल्पना को टीका लगवाया। कहा कि घर के समीप अस्पताल की सुविधा हो जाने से उनके परिवार को काफी लाभ हो रहा है। कांशीराम आवास योजना में रहने वाली धर्मा ने कहा कि हमारे जैसे मजदूरों को मुफ्त उपचार की सुविधा भी मिल रही है।

खबरें और भी हैं...