पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुल्तानपुर में शिव मंदिर का चबूतरा तोड़ा, आक्रोश:NH-30 A के चौड़ीकरण में मंदिर बन रहा था रोड़ा, काम रोका

सुल्तानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुल्तानपुर के हलियापुर कस्बे में भगवान शिव का मंदिर NH-330A के चौरीकरण के कारण बीच में आया। - Money Bhaskar
सुल्तानपुर के हलियापुर कस्बे में भगवान शिव का मंदिर NH-330A के चौरीकरण के कारण बीच में आया।

सुल्तानपुर में भगवान शिव के मंदिर का चबूतरा तोड़ने पर ग्रामीणों ने रोष जताया है। अयोध्या-रायबरेली NH-330A के चौड़ीकरण में मंदिर का चबूतरा रोड़ा बन रहा था। ग्रामीणों के रोष जताने पर हाईवे का निर्माण रोक दिया गया है।

लोग बोले थे हमारे पूर्वजों ने करवाया था निर्माण

जिले के हलियापुर कस्बा सुल्तानपुर जिला मुख्यालय से 40 किलोमीटर दूर है। यह क्षेत्र अमेठी लोकसभा क्षेत्र के जगदीशपुर विधानसभा में आता है। यहां अयोध्या-रायबरेली NH 330A के चौड़ीकरण का काम चल रहा है। कस्बे में भगवान शंकर का मंदिर है। स्थानीय रणविजय सिंह ने बताया कि 1890 से पहले हमारे पूर्वजों ने मंदिर का निर्माण कराया था। मंदिर हमारे खाते की जमीन में है।

हलियापुर में मंदिर के अंदर मां दुर्गा की मूर्ति।
हलियापुर में मंदिर के अंदर मां दुर्गा की मूर्ति।

बिना गजट कर रहे कार्रवाई
अब कार्यदाई संस्था के मजदूर और कर्मचारी सड़क किनारे इस पुराने मंदिर का चबूतरा और बगल के दो पुराने कुएं के पास मिट्टी की पटाई का काम कर रहे थे। स्थानीय लोगों ने विरोध किया, तो कार्यदायी संस्था के अधिकारियों ने पटाई का काम रोक दिया। यही नहीं मंदिर की सीमा में ही NH के किनारे बिजली विभाग द्वारा नया पोल लगा दिया गया।

नक्शे के विपरीत है निर्माण

इसका भी लोगों ने विरोध किया तो हटाना शुरू कर दिया। लोगों का कहना है कि गजट में मंदिर का चबूतरा और कुआं शामिल नहीं है। कार्यदाई संस्था के अधिकारी आरडी शर्मा ने बताया कि काम रोक दिया गया है। अब मंदिर के चबूतरे से हटकर सड़क का निर्माण हो रहा। यह निर्माण मानचित्र के विपरीत जा रहा है, जिससे सड़क संकरी हो जाएगी।

मंदिर की देख रेख करने वाले रण विजय सिंह।
मंदिर की देख रेख करने वाले रण विजय सिंह।

भूमि पूजन की तारीख देकर नहीं आए अधिकारी
मंदिर की देख रेख करने वाले रण विजय सिंह ने बताया कि 1890-95 में इसका निर्माण हुआ है। इसका आज तक न गजट हुआ है और नह तोड़ने का कोई निर्देश। इसके बाद अचानक यहां लोग पहुंचे और मंदिर के चबूतरे पर मिट्टी डालने लगे। ऐसी लाइन इन लोगों ने बनाया है कि इससे मंदिर का परिक्रमा मार्ग पूरी तरह बर्बाद हो रहा है। मंदिर भी टूटने की कगार पर है। यह लोग जबरदस्ती ऐसा कर रहे हैं। पहले NHAI के अधिकारी SDM आदि आए थे । उन्होंने कहा कि मंदिर प्रभावित नहीं होगा। उन्होंने बताया कि इसके बाद मंदिर के लिए जमीन मांगा गया उसे दिया तो भूमि पूजन की तारीख देकर कोई अधिकारी आया ही नहीं।

उमा रमण सिंह बीजेपी के जिला मंत्री ने कहा कि मंदिर को हमारे पूर्वजों ने बनवाया है। बिना नोटिस के ही इसे तोड़ा जा रहा है।
उमा रमण सिंह बीजेपी के जिला मंत्री ने कहा कि मंदिर को हमारे पूर्वजों ने बनवाया है। बिना नोटिस के ही इसे तोड़ा जा रहा है।

"बिना गजट के ही तोड़ रहे मंदिर"
बीजेपी के जिला मंत्री उमा रमण सिंह बताते हैं कि पुरखों ने मंदिर बनाया है। बीच-बीच में इसका जीर्णोद्धार भी होता रहा है। इन लोगों ने न इसका गजट किया। सीधे इस पर लाकर मिट्टी फेंक रहे। कोना भी तोड़ दिया है। कर्मचारियों और अधिकारियों का इसमें दोष है।

बीजेपी के मंडल उपाध्यक्ष भीम सिंह ने कहा कि भाजपा के विधायक-सांसद होने के बाद भी कोई आगे नहीं आ रहा है।
बीजेपी के मंडल उपाध्यक्ष भीम सिंह ने कहा कि भाजपा के विधायक-सांसद होने के बाद भी कोई आगे नहीं आ रहा है।

बीजेपी के सांसद-विधायक, फिर भी नहीं मिल रहा लाभ
बीजेपी मंडल उपाध्यक्ष भीम सिंह ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी का यहां से विधायक है, इससे पहले मंत्री थे। सांसद स्मृति ईरानी हैं। इसके बाद रातों रात अतिक्रमण कर इसको पाट दिया गया। मलबे से आधे मंदिर को ढक दिया, ग्रामसभा के लोग आए तो इसे हटवाया।

खबरें और भी हैं...