पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लम्भुआ में मेडिकल स्टोर मालिक से साइबर ठगी:21 दिन में 46 ट्रांजैक्शन, ठग ने उड़ाऐ 61 हजार; जालसाज ने की आनलाइन खरीदारी ​​​​​​​

लम्भुआएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सुलतानपुर के लंभुआ क्षेत्र मे साइबर जालसाज अब तक अनपढ व गांव के भोले भाले लोगों को एटीएम कोड की जानकारी कर खाते से पैसे उड़ाकर ठगते थे। लेकिन अब साइबर ठग नए-नए तरीके अपनाकर पढ़े लिखे लोगों के खाते को हैक कर आनलाइन ट्रांजैक्शन का हथकंडा अपनाकर ठगी का शिकार बना रहे हैं। मंगलवार को ठगों ने दवा दुकानदार के खाते से 61000 हजार रूपया उड़ा दिए।

मेडिकल स्टोर मालिक से साइबर ठगी
लंभुआ तहसील के कोतवाली देहात के हनुमानगंज चौराहे पर महेशपुर विकवाजितपुर निवासी हरिकृष्ण उपाध्याय मेडिकल स्टोर की दुकान किए हैं। सोमवार की शाम से रात तक इनके मोबाइल पर बीस से अधिक खाते से पैसे के कटने का मैसेज आए तो वह परेशान हो गए। जालसाज ठग ने दवा दुकानदार के हनुमानगंज बैंक आफ बड़ौदा के खाता नंबर को हैक कर उस खाते से पेटीएम एकाउंट के जरिए आनलाइन मार्केटिंग से सामान खरीददारी किया है।

46 बार की गई आनलाइन खरीददारी ​​​​​​​
दवा दुकानदार के खाते से जालसाज दो मई से 23 मई तक 46 बार में आनलाइन खरीददारी की है, जिसमे 209 रूपये से 14000 तक की खरीदारी हुई है। दुकानदार के मोबाइल पर खरीदारी का कोई मैसेज नहीं आ रहा था सोमवार को अचानक बीस मैसेज आने से वह परेशान हो उठा और भागकर बैंक पहुचा और अपना खाता बंद कराया।

61000 हजार गए निकाले
​​​​​​​
हरिकृष्ण के खाते में कुल 117000 रुपये थे, जो अब 55000 बचा है। हैकर जालसाज ने करीब 61000 हजार रुपये की ठगी की गई है। पैसा निकालने वाले का नाम अमित कुमार के रूप मे सामने आया है। इस घटना से लोग पेशोपेश में है कि बिना एटीएम व ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के आखिर खाते से कैसे पैसा कट गया है। युवक ने आनलाइन एफआईआर दर्ज करा थाने पर भी लिखित तहरीर दी है। देहात कोतवाल गौरीशंकर पाल ने बताया कि मामले में जांच पड़ताल की जा रही है।

पीड़ित ने की शिकायत
पीड़ित ने की शिकायत

ऐसे होती है बारकोड नंबर से धोखाधड़ी
आनलाइन बैंकिंग लेनदेन करने वाले सूरज सिंह बताते हैं कि साइबर ठग किसी का मोबाइल लेकर उस पर कोड भेजकर उसके नंबर को अपने एकाउंट से एड कर लेते हैं। बार कोड से ठगी करते हैं, तो दूसरे का नंबर अटैच होने के बाद भी धोखाधड़ी का पैसा सीधे उनके खाते में आ जाता है।

खबरें और भी हैं...