पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जयसिंहपुर में मोबाइल खोलेगा हत्या के राज:छविराज की हत्या का राज खोलेगा घटनास्थल से मिला मोबाइल, सर्विलांस की मदद से मर्डर मिस्ट्री को सुलझाने में जुटी पुलिस

जयसिंहपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छविराज की लाश के पास मिला मोबाइल उसकी हत्या का राज खोलने में अहम कड़ी साबित हो सकता है। पुलिस सर्विलांस के सहारे अनसुलझी मर्डर मिस्ट्री को सुलझाने में जुटी हुई है। उधर हत्या वाली रात बेलवारे बाजार में छविराज के साथ पार्टी करने वाले पार्टनरों से भी पुलिस पूछताछ में जुटी हुई है। फिलहाल घटना के दो दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक किसी नतीजे तक नहीं पहुंच सकी है। माना जा रहा है कि पुलिस जल्द ही हत्यारों के गिरेबान तक पहुंच जाएगी।

बीते शनिवार की रात गोली मारकर हुई थी हत्या

गौरतलब है कि बीते शनिवार की रात दोस्तपुर थाना इलाके के सुरहुरपुर बुरड़िया गांव निवासी छविराज प्रजापति(55) की बेलवारे बाजार से घर वापसी के समय बाजार से चंद कदम की दूरी पर अज्ञात बदमाशों ने बरूआ टिकउमा नाले के पास गोली मारकर हत्या कर दी थी। हत्यारों ने उसके शव को नाले में फेंककर ठिकाने लगा दिया था। रविवार की सुबह ग्रामीणों ने नाले में शव देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी।

घटना स्थल पर झाड़ियों में मिला मोबाइल।
घटना स्थल पर झाड़ियों में मिला मोबाइल।

मोबाइल खोलेगा हत्या के राज

सूचना पर दोस्तपुर थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और छानबीन शुरू की। हत्या की खबर पाकर पुलिस अधीक्षक डॉ. विपिन कुमार मिश्र डाग स्क्वायड टीम के साथ मौके पर पहुंचे थे। पुलिस को छविराज की लाश के पास सब्जी का थैला, कारतूस का खोखा और एक मोबाइल भी मिला था। पीड़ित परिवार का कहना है कि छविराज के पास कोई मोबाइल नहीं था, उसका मोबाइल दो महीने पूर्व और उसकी साइकिल एक महीने पूर्व इसी बाजार से गायब हो गई थी। तब से वह रोजाना शाम को घर से करीब दो किलोमीटर की दूरी तय कर बेलवारे जाता था। ऐसे में डेड बॉडी के पास से मिला मोबाइल कई राज खोल सकता है।

घटना स्थल पर मिली बुलेट
घटना स्थल पर मिली बुलेट

मजदूरी के सारे पैसे पार्टी में उड़ा देता था

सूत्र बताते है कि, छविराज मजदूरी करता था, और जो भी पैसा कमाता था वह शाम की पार्टी में खर्च कर देता था। वह अक्सर बाजार से लेट लौटता था। हत्या वाले दिन भी बेलवारे में पार्टनरों के साथ छविराज देखा गया था, जिसके बाद दूसरे दिन उसकी लाश मिली थी। अब पुलिस रहस्यमयी मोबाइल और पार्टनरों के सहारे हत्या के कारणों और हत्यारों तक पहुंचने में जुटी है।

खबरें और भी हैं...