पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जयसिंहपुर के नए एसडीएम ने संभाला कार्यभार:बोले- शासन की मंशा के अनुरूप सभी करें कार्य, निरीक्षण के दौरान गंदगी मिलने पर नाराज

जयसिंहपुर, सुलतानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एसडीएम ने अभिलेखागार और संग्रह अभिलेखागार कक्ष में रखी फाइलों के रख--रखाव काे देखा। - Money Bhaskar
एसडीएम ने अभिलेखागार और संग्रह अभिलेखागार कक्ष में रखी फाइलों के रख--रखाव काे देखा।

जयसिंहपुर में नवागत एसडीएम संजीव कुमार यादव ने सोमवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। इससे पहले वह जिले की बल्दीराय तहसील में एसडीएम रह चुके हैं। तहसील का चार्ज संभालने के बाद एसडीएम ने कर्मचारियों के साथ बैठक की। उन्हें शासन के मंशा अनुरूप कार्य करने के निर्देश दिए। तहसीलदार हृदय राम तिवारी से विभागीय कार्यों की जानकारी ली।

पीड़ित जनता को न्याय दिलाना प्राथमिकता

बता दें कि यहां पर तैनात रहे एसडीएम अरविंद कुमार का पदोन्नति के चलते लखनऊ ट्रांसफर हो गया है। सोमवार को डीएम रवीश कुमार गुप्ता ने उनको रिलीव कर दिया। सुबह करीब 11 बजे तहसील पहुंचे नवागत एसडीएम ने तहसीलदार से अब तक हुए कार्यों की समीक्षा की। एसडीएम ने आइजीआरएस समेत अन्य मामलों के बारे में जानकारी ली। एसडीएम ने कहा कि पीड़ित जनता को न्याय दिलाना उनकी पहली प्राथमिकता है। जनता अपनी समस्या को लेकर कभी भी दफ्तर आकर उनसे मिल सकती है।

तहसील की छत पर गंदगी देख एसडीएम ने सफाई के निर्देश दिए।
तहसील की छत पर गंदगी देख एसडीएम ने सफाई के निर्देश दिए।

आम आदमी की समस्याओं का त्वरित कराएं निस्तारण

एसडीएम ने कहा कि काम में लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। एसडीएम ने शासन की प्राथमिकताओं का शत--प्रतिशत पालन कराने की बात कही। साथ ही एसडीएम ने आम आदमी की समस्याओं के त्वरित निस्तारण पर विशेष ध्यान देने की बात कही। एसडीएम ने अभिलेखागार, भूलेख कंम्प्यूटर कक्ष सहित अन्य पटलों का मुआयना किया। अभिलेखागार और संग्रह अभिलेखागार कक्ष में रखी फाइलों के रख--रखाव काे देखा।

अग्निशमन यंत्र को सही हालत में रखने के लिए कहा।
अग्निशमन यंत्र को सही हालत में रखने के लिए कहा।

एसडीएम ने अग्निशमन यंत्र को सही हालत में रखने के लिए निर्देशित किया। तहसील भवन और आवासीय परिसर के निरीक्षण के दौरान छत पर गंदगी मिलने पर एसडीएम ने मातहतों को साफ--सफाई पर विशेष ध्यान के लिए कहा। इस मौके पर कानूनगो लाल चंद श्रीवास्तव, मुशीर अहमद आदि मौजूद रहे।