पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सीतापुर में गोकशी में शामिल बदमाशों की पुलिस से मुठभेड़:पैर में लगी गोली, 25 हजार रुपये के इनामी थे दोनों बदमाश

सीतापुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस मुठभेड़ के दौरान दोनों बदमाश पैर में गोली लगने से घायल हुए है। - Money Bhaskar
पुलिस मुठभेड़ के दौरान दोनों बदमाश पैर में गोली लगने से घायल हुए है।

सीतापुर पुलिस की गोवध अधिनियम में वांटेड चल रहे दो बदमाशों से आज सुबह मुठभेड़ हो गयी। बाराबंकी जनपद के रहने वाले दोनों बदमाश कई मुकदमों में फरार चल रहे थे। पुलिस ने दोनों बदमाशों की धरपकड़ के लिए दोनों बदमाशों पर 25-25 हजार रुपये भी घोषित कर रखा था। बीती रात पुलिस ने दोनों को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार कर लिया है।

मुठभेड़ में पुलिस पर झोंका फायर

मामला अटरिया थाना क्षेत्र के सीतापुर-लखनऊ बोर्डर का है। यहां अटरिया सहित जनपद के कई अन्य हिस्सों में कुछ अपराधियों द्वारा गौकसी की हुई कुछ वारदातों से माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा था। एसपी आरपी सिंह ने मामले को गंभीरता से लेते हुए टीमों का गठन कर गोवध अधिनियम में शामिल अभियुक्तो को चिन्हित कर दो शातिर बदमाशों पर 25 इनाम की घोषणा कर उन्हें पकड़ने की योजना बनायी।

पुलिस के मुताबिक बीती देर रात मुखबिर के जरिये यह सूचना मिली कि कुछ बदमाश गोकशी की वारदात को अंजाम देने के लिए जिले की सीमा में प्रवेश कर रहे है। पुलिस ने इसी सूचना के आधार पर सीतापुर लखनऊ बॉर्डर सहित बॉर्डर के हिस्सों पर चेकिंग अभियान शुरू किया। इस दौरान बाइक पर सवार दो संदिग्धों को आता देखकर पुलिस ने रोकने का प्रयास किया। बदमाशों ने पुलिस पर फायर करते हुए भागने का प्रयास किया लेकिन पुलिस की जवाबी फायरिंग में दोनों बदमाश मुठभेड़ में घायल हो गए।

पुलिस के मुताबिक यह दोनों अपराधी बाराबंकी जनपद के जैतपुर और मसौली इलाके के निवासी है। जिनकी पहचान कमरुद्दीन और सरफुद्दीन के रूप में हुई है।
पुलिस के मुताबिक यह दोनों अपराधी बाराबंकी जनपद के जैतपुर और मसौली इलाके के निवासी है। जिनकी पहचान कमरुद्दीन और सरफुद्दीन के रूप में हुई है।

गैर जनपद के निवासी है इनामी बदमाश

एएसपी दक्षिणी एनपी सिंह का कहना है कि पुलिस मुठभेड़ के दौरान दोनों बदमाश पैर में गोली लगने से घायल हुए है। जिन्हें सीएचसी में प्राथमिक उपचार के बाद जेल भेजने की कार्यवाई की जा रही है। पुलिस के मुताबिक यह दोनों अपराधी बाराबंकी जनपद के जैतपुर और मसौली इलाके के निवासी है। जिनकी पहचान कमरुद्दीन और सरफुद्दीन के रूप में हुई है। इन दोनों अपराधियो पर दर्जनों गोकशी सहित अन्य धाराओं में मुकदमे दर्ज है। गोवध अधिनियम के तहत वांटेड चल रहे थे। जिसके चलते इन पर 25-25 हजार रुपये का इनाम भी घोषित था। पुलिस ने इनके कब्जे से अवैध असलहे और कारतूस सहित बाइक भी बरामद की है। पुलिस का कहना है कि इस गिरोह में शामिल अन्य सदस्यों की भी तलाश की जा रही है।