पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %
  • Business News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Sitapur
  • Shot Daughter And Sister in law Then Blew Himself Up: Youth Dies, 2 In Critical Condition; When The Door Opened Late In The In laws' House, The Gun Was Taken Out In Anger

बेटी-साली को गोली मारकर कर लिया सुसाइड:ससुर ने बताया- ननिहाल में थी बेटी, लेने आया था दामाद; दरवाजा देर से खुला तो दोनों पर जानलेवा हमला किया

सीतापुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सीतापुर में रविवार शाम बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां पर सनकी दामाद ससुराल पहुंचा। काफी देर तक दरवाजा खटखटाता रहा। 15 मिनट बाद दरवाजा खुला तो गुस्से में दामाद ने पहले अपनी साली और बेटी को गोली मारी। इसके बाद अपने पेट पर सटाकर गोली चलाई। फिर उसने अपनी गर्दन पर भी गोली मार ली।

दामाद की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि साली और बेटी गंभीर घायल हैं। परिवार वालों ने दोनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। हालत गंभीर होने पर उन्हें देर रात लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है।

रामरतन ने बताया कि दामाद राजकमल रविवार देर शाम घर आया। वह काफी देर तक दरवाजा खटखटाता रहा।
रामरतन ने बताया कि दामाद राजकमल रविवार देर शाम घर आया। वह काफी देर तक दरवाजा खटखटाता रहा।

मामला पिसावां थानाक्षेत्र के मुड़ाकलां गांव का है। यहां रहने वाले रामरतन गुप्ता की चार बेटियां हैं। बड़ी बेटी की शादी शाहजहांपुर के रहने वाले राजकमल (40) से हुई थी। राजकमल की बेटी मोहिनी (19) कुछ दिनों से पिसावां अपनी ननिहाल में रह रही थी। रामरतन ने बताया कि राजकमल रविवार देर शाम घर आया। वह काफी देर तक दरवाजा खटखटाता रहा। परिवार के सभी लोग घर के काफी अंदर मौजूद थे, इसलिए सुन नहीं सके। करीब 15 मिनट बाद मोहिनी ने दरवाजा खोला। देर से दरवाजा खोलने पर राजकमल गुस्से में था। वह सीधे ऊपर बने कमरे में गया। बेटी मोहिनी उसके पीछे-पीछे कमरे में पहुंची।

घटना की सूचना पर मोहल्ले में लोगों की भीड़ जमा हो गई।
घटना की सूचना पर मोहल्ले में लोगों की भीड़ जमा हो गई।

आपराधिक प्रवृत्ति का था दामाद
सबसे पहले उसने मोहिनी को गोली मार दी। आवाज सुनकर साली वंदना ऊपर कमरे में आई तो राजकमल ने उसे भी गोली मार दी। इसके बाद अपने पेट और गर्दन पर गोली मारकर आत्महत्या कर ली। रामरतन के मुताबिक, उसका दामाद आपराधिक प्रवृत्ति का था। वो पहले कई मामलों में जेल भी जा चुका था।

रामरतन के मुताबिक, उसका दामाद आपराधिक प्रवृत्ति का था। वो पहले कई मामलों में जेल भी गया था।
रामरतन के मुताबिक, उसका दामाद आपराधिक प्रवृत्ति का था। वो पहले कई मामलों में जेल भी गया था।

पुलिस को 4 खोखे और तमंचा मिला
पुलिस को 15 बोर तमंचे के चार खोखे मिले हैं। साथ ही तमंचा भी पड़ा मिला है। SP आरपी सिंह का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। वारदात के पीछे हर पहलू को छानबीन की जा रही है। जिससे वारदात के पीछे की कहानी साफ हो सके।

खबरें और भी हैं...