पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सीतापुर में दहेज के लिए विवाहिता की हत्या:शादी के 3 साल बाद मांग रहे थे अतिरिक्त दहेज, न मिलने पर पीट-पीटकर मार डाला

सीतापुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीतापुर में दहेज की खातिर विवाहिता की हत्या - Money Bhaskar
सीतापुर में दहेज की खातिर विवाहिता की हत्या

सीतापुर में दहेज लोभियों की भेंट एक बार फिर एक विवाहिता शिकार हुई है। यहां शादी के बाद अतिरिक्त दहेज न मिलने पर पति और उसके परिवार वालों ने विवाहिता को इस कदर बुरी तरह पीटा कि उसने घर की चौखट पर ही दम तोड़ दिया। इसके बाद लोग उसे डॉक्टर के पास लेकर गए। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि ससुराल वालों ने मामले को आत्महत्या दिखाने के लिए अपनी बहु को डॉक्टर के यहां से लाकर फांसी पर लटका दिया था। इसके बाद गांव वालों ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही मामले की जांच कर रही है।

3 साल पहले हुई थी पीड़िता की शादी
जिले के खैराबाद थाना क्षेत्र के ग्राम रहीमाबाद में यहां के निवासी मंजूर अली का विवाह तकरीबन 3 साल पहले आसमुन निशा के साथ हुआ था। लड़की के पिता अजीज खान ने बताया कि शादी के बाद पति और उसके परिवार वाले दहेज की अतिरिक्त मांग करते हुए उसकी बेटी को मारते पीटते थे।

पड़ोसियों को रोज सुनाई देती है पीड़िता की चीखें
ग्रामीणों ने बताया कि घर से रोज लड़की के चीखने चिल्लाने की आवाजें आया करती थी। बीती रात भी ससुराल वालों ने विवाहिता को बेरहमी से इस कदर पीटा कि उसने दम तोड़ दिया। विवाहिता को जब डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया तो परिजन उसे लाकर पेड़ पर टांग दिए और उसके बाद आत्महत्या करार देने के लिए उसे उतारकर चारपाई पर लेटा दिया।

मृतका के शरीर पर हैं चोटों के निशान
स्थानीय लोगों की जानकारी पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। विवाहिता का पिता का कहना है कि लड़की के शरीर पर चोटों ने गहरे निशान पड़े हुए और इसी के चलते उसकी मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि उन्होंने पति और उसके परिजनों को पीड़िता को मारते पीटते हुए देखा था। जिसके बाद उसकी मौत की सूचना मिली। थानाध्यक्ष अरविंद सिंह का कहना है कि परिजनों की तहरीर के आधार पर पति सहित उसके परिवार वालों पर केस दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...