पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महिला सशक्तिकरण पर पुलिस की पाठशाला:घटनाओं को छिपाएं नहीं, परिजनों या पुलिस को बताएं, इससे अपराध पर लगेगी लगाम

इटवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिद्धार्थनगर के इटवा तहसील अंतर्गत तबह कठेला थाना क्षेत्र में महिला सशक्तिकरण अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में क्षेत्र के ग्राम धोबहा में महिला सिपाहियों ने महिलाओं, छात्राओं व युवतियों को उनके अधिकार बताते हुए जागरूक किया। उन्हें एक तरफ जहां स्वावलंबन के टिप्स दिए गए तो वहीं दूसरी तरफ सुरक्षा के प्रति सतर्क किया गया। उनके लिए सरकार की तरफ जारी हेल्पलाइन नंबरों के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी। कहा कि- आकस्मिक अवसर पर बिना डरे, बिना झिझके पुलिस की मदद लें।

शिक्षा पर विशेष जोर दें

महिला अधिकारी कंचन सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि- आप लोगों को अपनी शिक्षा पर विशेष जोर देना चाहिए। शिक्षा, महिला सशक्तिकरण की दिशा में महत्वपूर्ण कड़ी साबित होगी। सरकार द्वारा महिलाओं के स्वावलंबन के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। स्वयं सहायता समूह के माध्यम से इनकी तस्वीरें संवारी जा रही हैं। महिलाएं जागरूक रहेंगी तो वे आत्मनिर्भर बन सकेंगी।

घटनाओं को छिपाएं नहीं, परिवारीजन या पुलिस को बताएं

महिला आरक्षी मनीषा शुक्ला व करिश्मा द्वारा स्कूली बच्चियों व महिलाओं को सुरक्षा के प्रति जागरूक किया। कहा कि- छोटी-छोटी घटनाओं को छिपाएं नहीं, उसे अपने परिवारीजनों को बताएं या फिर पुलिस की मदद लें। यदि घटनाएं छिपाएंगी तो इससे अपराधियों के हौसले बढ़ेंगे और अपराधों में बढ़ोत्तरी होगी। आकस्मिक अवसरों पर सभी लोग 1090 वूमेन पावर लाइन, 181 महिला हेल्पलाइन, 1076 मुख्यमंत्री हेल्पलाइन, 112 पुलिस हेल्पलाइन, 1098 चाइल्ड लाइन जैसे हेल्पलाइन नंबरों पर फोन करें, तुरंत पुलिस सहायता के लिए खड़ी मिलेगी।

महिलाओं की जागरूकता से अपराध में लगेगा लगाम

तबह कठेला थाना प्रभारी निरीक्षक सौदागर राय ने कहा कि, इन दिनों विद्यालयों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में महिला सशक्तिकरण एवं महिला सुरक्षा को लेकर जागरूकता कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। यदि ग्रामीण महिलाएं और छात्राएं जागरूक होंगी तो न केवल वे आत्मनिर्भर बनेंगी, बल्कि अपराधों पर भी अंकुश लगेगा।

खबरें और भी हैं...