पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शामली में आवारा जानवरों का आतंक:लोगों का सड़क पर चलना हुआ दुश्वार, जिम्मेदार लोगों ने बंद की अपनी आंखें

शामलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शामली में उत्तर प्रदेश सरकार ने सड़कों पर घूमने वाले आवारा पशु व बेसहारा गोवंश के लिए गो आश्रय स्थल बनाकर उनका प्रबंधन कराने के आदेश दे रखे हैं। लेकिन स्थानीय ग्राम पंचायत एवं स्थानीय निकाय की लापरवाही एवं उदासीनता के चलते आए दिन सड़कों पर घूमने वाले आवारा पशु से टकराकर लोग दुर्घटनाओं का शिकार हो रहे हैं, या फिर किसी बड़े वाहन या बिजली के करंट लगने से गोवंश की मौत हो जाती है। दूसरी ओर उनके आस पास कस्बें ओर शहर के रहने वाले खादी ओर खाकी व अन्य उच्च अधिकारी जिम्मेदार लोगों ने अपनी आंखें बंद कर रखी हैं।

2 आवारा सांड सड़क के बीच लड़ रहे
ताजा मामला थानाभवन क्षेत्र के कस्बा जलालाबाद का है। जहां कस्बा जलालाबाद से होकर गुजरने वाले दिल्ली सहारनपुर नेशनल हाईवे मार्ग पर 2 आवारा सांड सड़क के बीचो बीच एक दूसरे के साथ लड़ाई करने लगे। वही हाईवे से तेजी से गुजरते हुए कई वाहन दोनों सांड की चपेट में आने से बाल-बाल बचे। काफी देर तक दोनों सांड लड़ाई करते रहे। किसी ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल कर दी। वायरल वीडियो चर्चा का विषय बनी है। हालांकि खुले में घूम रहे सैकड़ों की संख्या में आवारा पशुओं से लोग जहां आये दिन दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं।

नुकसान से काफी आहत
किसान आवारा पशुओं के द्वारा किए जाने वाले नुकसान से काफी आहत हैं। जबकि नगर पंचायत व अन्य उच्च अधिकारी अपनी आंखें बंद कर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ कर बैठे है। अब देखना है कि कब लापरवाही करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई होगी या फिर आवारा घूम रहे सांड से किसी बेगुनाह आदमी की मौत के बाद जागेगे। सदर कोतवाली क्षेत्र के सिटी में ही एक सांड ने जिले के वरिष्ठ पत्रकार को भी टक्कर मार करके मौत के घाट उतार दिया था।

खबरें और भी हैं...