पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अग्निपथ के विरोध में कांग्रेस ने किया प्रदर्शन:राष्ट्रपति के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन, कहा- योजना को वापस ले सरकार

शामली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अग्नीपथ योजना को लेकर जनपद में कांग्रेस नेताओं ने धरना प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने जमकर नारे लगाए और राष्ट्रपति के नाम पर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। कार्यकर्ताओं ने स्कीम को वापस लेने की मांग की। इसके अलावा स्कीम को काले कानून के बराबर बताया।

कांग्रेस नेताओं ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि बिना किसी अन्य लोगों के परामर्श के सरकारी योजना लाई है। कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने कहा,"पहले तो केंद्र सरकार किसानों के लिए कृषि बिल कानून लेकर आई थी और फिर धरना प्रदर्शन के बाद उसको वापस ले लिए था और अब युवाओ के लिए अग्निपथ योजना लाई है, जहां आज राष्ट्रपति के माध्यम से कांग्रेस नेताओं ने अग्नीपथ योजना को वापस लेने की मांग की है।

अग्निपथ योजना छात्रों के हित में नहीं
कांग्रेस नेताओं का कहना है कि अग्निपथ योजना छात्रों के कतई हित में नहीं है और इससे आने वाले युवाओं को जान नुकसान होगा तो वही देश जिसका खामियाजा भुगतेगा और यह अग्निपथ योजना काले कानून से भी कम नहीं है।

शॉर्ट-टर्म यूथ रिक्रूटमेंट स्कीम है अग्निपथ, 46 हजार की होगी भर्ती
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 14 जून को अग्निपथ नाम की योजना शुरू करने का ऐलान किया। अग्निपथ स्कीम आर्म्ड फोर्सेज के लिए एक देशव्यापी शॉर्ट-टर्म यूथ रिक्रूटमेंट स्कीम है। इसमें चार साल के लिए सशस्त्र बलों में युवाओं की भर्ती होगी। योजना के तहत चुने गए युवाओं को अग्निवीर कहा जाएगा। जवानों की तैनाती रेगिस्तान, पहाड़, जमीन, समुद्र या हवा, समेत विभिन्न जगहों पर होगी। इस साल करीब 46 हजार युवाओं को सशस्त्र बलों में शामिल करने की योजना है।

खबरें और भी हैं...