पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60349.89-0.67 %
  • NIFTY18020.95-0.51 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47943-0.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61414-0.3 %

शामली...10 सालों से लीक किए जा रहे थे पेपर:मनीष ने इस काम के लिए छोड़ दी थी रेलवे की नौकरी, धर्मेंद्र की मां बोलीं- मेरा बेटा निर्दोश है, मैं उसके लिए लड़ूंगी

शामली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धर्मेंद्र की मां बोलीं, मैं अपने बेटे के लिए लड़ूंगी। - Money Bhaskar
धर्मेंद्र की मां बोलीं, मैं अपने बेटे के लिए लड़ूंगी।

टीईटी का पेपर लीक कराने के मामले में शामली के तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया। मेरठ STF और स्थानीय पुलिस ने तीनों को जेल भेज दिया है। पकड़े गए तीनों आरोपियों में से दो आरोपी करीब 10 सालों से परीक्षा का पेपर लीक कराने का काम कर रहे हैं।

साथ ही युवक-युवतियों को भर्ती कराने का गोरखधंधा कर रहे थे। एक आरोपी ने तो इस काम के लिए अपनी रेलवे की नौकरी तक छोड़ दी थी।

लाखों रुपए में बेच देते थे पेपर

गांव के लोगों की माने तो मनीष, रवि और धर्मेंद्र कई सालों से दोस्त हैं। ये लोग करीब 10 साल से इस गोरखधंधे से जुड़े हैं। लाखों रुपए लेकर ये लोग पेपर बेच देते हैं। साथ ही ये लोग लोगों को भर्ती कराने का काम भी करते थे। ग्रामीणों की माने तो इस काम के लिए मनीष ने अपनी रेलवे की नौकरी भी छोड़ दी थी।

10 सालों में मनीष बन गया अमीर

गांव वालों ने कहा कि जिसके पास मात्र 10 बीघे जमीन हो वो इतनी ठाट बाट से कैसे रह सकता है। इस तरह का काम करने वाला ही इतनी मौज कर सकता है। ग्रामीणों ने बताया कि गांव से बाहर रहने वाले युवकों का यहां पर आना जाना लगा रहता था। 10 सालों से मनीष के परिवार की काया पलट हो गई थी।

मेरे बेटे के बारे में किसी से भी पूछ लो...

आरोपी धर्मेंद्र की मां ने बताया कि मेरे बेटे को फंसाया गया है। अन्य दोनों युवकों के द्वारा मेरे बेटे को फोन किया गया था और घर से बुलाया गया था। मेरा बेटा निर्दोष है। मेरे बेटे के बारे में पूरे गांव में किसी से भी पूछ लो। मैं अपने बेटे को इंसाफ दिलाने के लिए लड़ाई लडूंगी, फिर चाहे कुछ भी हो।

खबरें और भी हैं...