पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कैराना में फोरलेन पुल का हो रहा निर्माण:एक माह में यमुना के नए फोरलेन पुल पर दौड़ेंगे वाहन, आए दिन लगने वाले जाम से मिलेगी मुक्ति

कैराना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कैराना। 60 के दशक में यूपी को हरियाणा से जोड़ने वाली यमुना नदी पर करीब 50 लाख की लागत में पुल बनाया गया था। पुराना पुल सकरा होने के साथ ही जगह जगह से पुल नीचे सरक गया है। वहीं एनएच 709 एडी बनाने वाली कम्पनी द्वारा यमुना नदी पर फोरलेन पुल का निर्माण बहुत तेज गति के साथ चल रहा है। एक माह के अंदर नए पुल पर वाहन दौडते नजर आयेगें।

60 के दशक बनाया गया था पुल
60 के दशक में यूपी हरियाणा सीमा पर यमुना नदी के ऊपर करीब 50 लाख की लागत में पुल बनाया गया है। 70 के दशक में पुल का एक पिलर नीचे बैठ जाने के कारण पुल करीब दो माह तक बंद रहा था। इस दौरान यमुना नदी में बड़े ड्रम डाल कर उनके ऊपर फटटे डाल का अस्थायी पुल बना कर वाहन निकाले गए थे। पुराना पुल जर्जर हालत में पहुंच गया है।

20 प्रतिशत कार्य हो गया पुर्ण
वहीं पानीपत के सिवाह से नगीना तक एनएच 709 एडी का निर्माण जीआर इंफ्रा प्राइवेट लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है। उक्त हाइवे सितम्बर से पहले ही तैयार होने की संभावना है। इसके साथ ही यमुना नदी के पुराने पुल के बराबर में ही नए फोरलेन पुल का निर्माण कार्य भी तेज गति के साथ चल रहा है। पुल की एक साइड की ग्राउंड तो पुरी बन कर तैयार हो गई और दुसरी साइड की ग्राउंड पर भी 20 प्रतिशत कार्य हो चुका है।

पुल का हो रहा निर्माण
पुल का हो रहा निर्माण

दोनों साइडों में बनाए गए 12-12 पिलर
उक्त नया फोरलेन पुल 510 मीटर लम्बा होगा। पुल 32 फिट चौड़ा बनाया जा रहा है। एक साइड 16 फिट की होगी, जिसमें से तीन फिट का फुटपाथ होगा। पुल की दोनों साइडों के नीचे 12-12 पिलर लगाए गए हैं। पुल की हरियाणा व यूपी साइड में बड़ी-बड़ी लाइटे लगेगी। पुल का निर्माण कर रही जीआर इंफ्रा प्राइवेट लिमिटेड के प्रोजेक्ट मैनेजर वरूण धवन ने बताया कि एक माह के अंदर नये पुल की एक साइड वाहनों के लिए खोल दी जाएगी। जबकि दुसरी लाइन करीब 3 माह के अंदर चालू होगी। पुल निर्माण के लिए 70 श्रमिक दिन रात काम कर रहे है।

खबरें और भी हैं...