पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX60754.86-0.9 %
  • NIFTY18113.05-1.07 %
  • GOLD(MCX 10 GM)47943-0.08 %
  • SILVER(MCX 1 KG)61414-0.3 %

संतकबीरनगर में पत्नी ने निभाई कसम:पति की मौत के बाद पत्नी ने भी तोड़ा दम, एक साथ जली दोनों की चिता

संतकबीरनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दोनों का एक साथ अंतिम संस्कार किया गया। - Money Bhaskar
दोनों का एक साथ अंतिम संस्कार किया गया।

साथ जीने और साथ मरने की कसमें अक्सर लोग खाते हैं, लेकिन कुछ ही लोग इसे निभाते हैं। संतकबीरनगर में ऐसा ही कुछ देखने को मिला। यहां पर पति की मौत के कुछ घंटे बाद पत्नी ने भी दम तोड़ दिया। दोनों की चिता एक साथ जलाई गई। परिवार वालों के साथ ही ग्रामीणों ने नम आंखों से उनका विदाई दी।

सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाई

दरअसल, धनघटा क्षेत्र के मौर गांव के रहने वाले रामवृक्ष बेलदार (58) की तबीयत काफी दिनों से खराब चल रही थी। उनका इलाज घर पर ही परिवार के लोग करवा रहे थे। सोमवार की रात रामवृक्ष की मौत हो गई। उनकी मौत से परिवार के लोग सदमे में थे। पति की मौत के गम को 55 वर्षीय पत्नी प्रभावती देवी बर्दाश्त नहीं कर पाई।

रामवृक्ष की फाइल फोटो।
रामवृक्ष की फाइल फोटो।

राते-रोते अचेत हो गई

ग्राम प्रधान कन्हैया लाल यादव के मुताबिक, मंगलवार की सुबह करीब नौ बजे दाह संस्कार के लिए जब रामवृक्ष की अरथी उठाने की तैयारी चल रही थी। उसी समय पत्नी प्रभावती रोते-रोते अचेत हो गई। अचेत प्रभावती के शरीर को जब हिलाया डुलाया गया तो शरीर से कोई हरकत नहीं हुई। उसके बाद तत्काल डॉक्टर को बुलाया गया और डॉक्टर ने प्रभावती को देखने के बाद मृत घोषित कर दिया।

प्रभावती की फाइल फोटो।
प्रभावती की फाइल फोटो।

बेटा रणविजय और रणधीर ने मां-बाप की अरथी को कंधा देकर सरयू नदी के चहोड़ा घाट पर पहुंचाए। जहां दंपती का अंतिम संस्कार एक ही चिता पर किया गया।

खबरें और भी हैं...