पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संतकबीनगर में 6 दोस्त नदी में डूबे:2 सगे और एक ममेरे भाई की मौत, नहाते वक्त गहरे पानी में चले गए थे

संतकबीर नगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

संतकबीरनगर में कुआनो नदी में मंगलवार शाम नहाते समय छह युवक डूब गए। मछुआरों ने तीन युवकों को बचाकर नदी से बाहर निकाला, लेकिन 3 युवक गहरे पानी में डूब गए। 12 घंटे चले रेस्क्यू के बाद बुधवार दोपहर 2 बजे 21 साल के चंदन, 16 साल के अनुराग राय और 23 साल के आकाश के शव को बरामद किया गया है। चंदन और अनुराग सगे भाई थे। जबकि आकाश उनका ममेरा भाई था। ये हादसा सांखी घाट पर हुआ।

यह तस्वीर सांखी घाट की है।, जहां रात 9 बजे तक रेस्क्यू अभियान चला। बुधवार सुबह फिर से रेस्क्यू शुरू किया गया था।
यह तस्वीर सांखी घाट की है।, जहां रात 9 बजे तक रेस्क्यू अभियान चला। बुधवार सुबह फिर से रेस्क्यू शुरू किया गया था।

एक को बचाने के चक्कर में सभी डूबे
सांखी गांव के रहने वाले अयोध्या पेशे से किसान हैं। उनके दो बेटे चंदन और अनुराग थे। चंदन बीए फर्स्ट ईयर में और उसका छोटा भाई अनुराग 11वीं में पढ़ता था। गोरखपुर का रहने वाला आकाश उर्फ प्रिंस चंदन के घर पर आया था। खलीलबाद के रहने वाले मोनू, शुभम और आकाश भी चंदन के पड़ोस में रिश्तेदारी में आए थे। मंगलवार शाम को सभी एक साथ कुआनो नदी में नहाने गए।

नहाते वक्त आकाश डूबने लगा। उसे डूबता देख छोटू बचाने के लिए आगे बढ़ा, फिर वो भी डूबने लगा। बड़ा भाई चंदन भी भाई को बचाने आगे बढ़ा तो वह भी डूबने लगा। यह देख अन्य साथियों ने भी बचाने की कोशिश की, तो सभी डूबने लगे। चीख पुकार सुनकर मछुआरों और कुछ साहसी लोगों ने मौके से मोनू, शुभम और आकाश को सुरक्षित बाहर निकाला था।

यह मृतक भाइयों के परिजन हैं। उनका रो-रोकर बुरा हाल है। लोग उन्हें ढांढस बंधाते नजर आए।
यह मृतक भाइयों के परिजन हैं। उनका रो-रोकर बुरा हाल है। लोग उन्हें ढांढस बंधाते नजर आए।

इसके बाद बच्चों को बचाने के लिए पहले ग्रामीणों और पुलिस ने काफी मशक्कत की, लेकिन सफल नहीं हो पाए। तब जाकर एनडीआरएफ ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया, लेकिन रात होने की वजह से रेस्क्यू ऑपरेशन में दिक्कतें आ रहीं थीं। इसलिए बचाव अभियान रोक दिया गया। बुधवार सुबह फिर रेस्क्यू ऑपरेशन चला और दोपहर 2 बजे तक तीनों शवों को निकाला गया।

यह तस्वीर घटना स्थल की है, जहां मृतकों के परिजन और गांव की महिलाएं जुटीं।
यह तस्वीर घटना स्थल की है, जहां मृतकों के परिजन और गांव की महिलाएं जुटीं।

दो बेटों की मौत से दुखी मां रोते-रोते बेसुध
चंदन और अनुराग की मौत से पूरे क्षेत्र में मातम का माहौल है। परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। मां रोते-रोते बेसुध हो जा रही है। सूचना पर धनघटा विधायक गणेश चौहान पहुंचे थे। एसपी सोनम कुमार ने भी घटनास्थल का जायजा लिया।

यह फोटो घटनास्थल की है, जहां एसपी ने फोर्स के साथ निरीक्षण करने पहुंचे थे।
यह फोटो घटनास्थल की है, जहां एसपी ने फोर्स के साथ निरीक्षण करने पहुंचे थे।

सीओ राम प्रकाश ने कहा, "तीनों बच्चों के शवों को बरामद कर लिया है। तीनों ममेरे भाई हैं। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। आगे की कार्रवाई की जा रही है।"

खबरें और भी हैं...