पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बारातियों से मारपीट के बाद दूल्हे ने तोड़ी शादी:जयमाल पर फोटो खींच रहे थे युवक, दुल्हन की बुआ के मना करने पर मारपीट, लौटी बारात

घनघटा, संतकबीरनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शादी समारोह के दौरान फोटो खींचना , वीडियो बनाना आम बात होती है, लेकिन अगर सोचिए कि इसी बात को लेकर किसी लड़की की शादी टूट जाए तो ये बड़ी बात बन जाती है।

कुछ ऐसा ही हुआ संतकबीर नगर जिले की घनघटा तहसील के करमा गांव निवास भागचंद की बेटी ममता की शादी बस्ती जिले के लोन्हा गांव निवासी शिवपूजन के बेटे अशोक कुमार से होनी तय थी। जयमाल का कार्य़क्रम हो रहा था। सभी घराती औऱ बाराती वर वधू को अपना आशीर्वाद दे रहे थे। इसी बीच थाना क्षेत्र के नावन गांव निवासी नीरज पुत्र जगदीश और करमा गांव निवासी विकास पुत्र जगदीश वहां मौजूद थे, जो दूल्हा-दुल्हन की फोटो खींच रहे थे । लेकिन ये बात दुल्हन की बुआ को नागवार गुजरी । दरअसल उनका कहना था कि लड़के स्टेज के बहुत नजदीक से फोटो खींच रहे थे।

दुल्हन की बुआ ने लड़कों को स्टेज से दूर हटकर फोटो खींचने की बात कही , जिसपर लड़के आगबबूला हो गए, और गाली-गलौज पर उतर गए। फिर क्या था बवाल शुरू हो गया। दबंगों ने बारातियों को पीटकर घायलकर दिया । वहां मौजूद लोगों ने बीच-बचाव कर मामले को शांत कराया । लेकिन मामला शांत होने की बजाय और बढ़ गया। जयमाल के स्टेज से बवाल काटने के बाद लड़के सीधा बारातियों के जनवासे में पहुंच गए, वहां उन्होंने खड़ी गाड़ियों में तोड़फोड़ करना शुरू कर दिया। बारातियों ने मना किया तो उनसे भी भिड़ गए और मारपीट की। हो हल्ला सुनकर जयमाल के कार्यक्रम में मौजूद बाराती भागकर पहुंचे, जिसके बाद मामले को शांत कराया।

बारातियों को पिटता देख बारात आए अन्य लोग जयमाल स्थल से बारात स्थल की तरफ जाने लगे तो करमा गांव निवासी चंद्रिका पुत्र अज्ञात,अनमोल,शिवम,गोलू पुत्रगण चंद्रिका, शैलाबी,आकाश,विशाल,अंकित पुत्रगण फूलचंद,सचिन पुत्र वीरेंद्र,सनीदेवल पुत्र रामरूप,अजीत पुत्र जनार्दन समेत दर्जनों लोग मंडप में रखा मूसर उठाकर बारातियों को पीटना शुरू कर दिए। जिससे आधा दर्जन से अधिक बाराती घायल हो गए और अफरा-तफरी का माहौल हो गया।

घटना के बाद घर के बाहर बैठे लौग
घटना के बाद घर के बाहर बैठे लौग

इसी बीच लड़की-पक्ष के लोगों ने 112 नंबर पीआरबी पुलिस को फोन कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने विवाद को शांत कराते हुए बवाल कर रहे 3 उपद्रवियों को धनघटा थाने ले आई। इस घटना से नाराज बाराती बिना शादी किए ही वापस चले गए।

बातचीत के दौरान दुल्हन ममता ने बताया कि गांव में आने वाली हर बारात में इन लोगों द्वारा मनबढ़ई और दबंगई की जाती है। जिसके चलते आज उसकी शादी नहीं हो सकी। लड़की के पिता भालचंद्र ने बताया कि गांव के मनबढ़ों द्वारा किए गए इस कृत्य से उनका काफी नुकसान हुआ है।

इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक विनय कुमार पाठक ने बताया कि मामले की जानकारी है और पकड़े गए युवकों से पूछताछ की जा रही है।

खबरें और भी हैं...