पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संभल में चुनावी तैयारियों को लेकर प्रशासन मुस्तैद:मतदान के लिए संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों की हुई समीक्षा, एसडीएम ने चिन्हित असामाजिक तत्वों पर सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए

संभल7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संभल में एसडीएम ने पुलिस अधिकारियों के साथ की बैठक - Money Bhaskar
संभल में एसडीएम ने पुलिस अधिकारियों के साथ की बैठक

संभल में विधानसभा चुनाव को लेकर संभल में एसडीएम ने संभल सर्किल के सभी थाना प्रभारियों के साथ बैठक कर इलाके के संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान एसडीएम ने सभी थाना प्रभारियों को संवेदनशील व अति संवेदनशील बूथ वाले क्षेत्र में असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए हैं।

आसामाजिक तत्वों की की जाए पहचान

जिले में उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होते ही पुलिस और प्रशासनिक अफसर अब तैयारियों में जुटे हुए हैं। संभल में 14 फरवरी को मतदान होना है लेकिन मतदान को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए जहां एक तरफ पुलिस महकमा बवालियों की पहचान करने में जुटा है। वहीं दूसरी तरफ निर्वाचन अधिकारी भी संवेदनशील और अतिसंवेदनशील श्रेणी में चिन्हित बूथों की लेकर रिपोर्ट तैयार कर रहे है। संभल सदर तहसील स्थित एसडीएम कार्यालय में एसडीएम रमेश बाबू ने संभल सर्किल के सदर कोतवाली,नखासा, हयातनगर सहित सभी थाना प्रभारियों के साथ बैठक की।

व्यवस्थाओं में कोई बाधा पैदा न कर पाए

एसडीएम ने सभी थाना प्रभारियों से अपने अपने क्षेत्र के संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों की जानकारी ली। एसडीएम ने बैठक के दौरान सभी थाना प्रभारियों के द्वारा संवेदनशील और अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों के आसपास के क्षेत्र के निवासी चिन्हित किए गए असामाजिक तत्वों की भी जानकारी ली। इसके बाद एसडीएम ने सभी थाना प्रभारियों को संवेदनशील बूथ वाले इलाकों में चिन्हित किए गए असामाजिक तत्वों पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। वहीं एसडीएम ने कहा कि मतदान के दौरान कोई भी असामाजिक तत्व मतदान केंद्रों पर शांति व्यवस्था भंग कर व्यवधान उत्पन्न ना कर सके इसके लिए पहले से ही सख्त कार्यवाही की योजना तैयार की जाए।

संवेदनशील जगहों पर होगी मजिस्ट्रेट की तैनाती

एसडीएम रमेश बाबू ने बताया कि संवेदनशील अतिसंवेदनशील बूथों की समीक्षा करते हुए चिन्हित किए गए असामाजिक तत्वों पर कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। इसी के साथ संवेदनशील मजिस्ट्रेट की तैनाती को लेकर रिपोर्ट तैयार की जा रही हौ।

खबरें और भी हैं...