पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संभल को पर्यटन नगरी बनाने की मांग:हिंदू जागृति मंच ने की बैठक, कार्यकर्ताओं ने सामूहिक संघर्ष का लिया संकल्प

संभल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यकर्ताओं ने बैठक करके सामूहिक संघर्ष का संकल्प लिया। - Money Bhaskar
कार्यकर्ताओं ने बैठक करके सामूहिक संघर्ष का संकल्प लिया।

संभल में एक हफ्ते पहले आर्य समाज मंदिर में संभल को पर्यटन स्थल घोषित की मांग की गई थी। शुक्रवार को हिंदू जागृति मंच ने संगठन के कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के साथ बैठक की।

इसके साथ ही पर्यटन स्थल घोषित होने तक संघर्ष करने की रणनीति बनाई। इसके अलावा कई मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की।

हिंदू जागृति मंच के कार्यकर्ताओं ने की बैठक।
हिंदू जागृति मंच के कार्यकर्ताओं ने की बैठक।

पुण्यभूमि है संभल ​​​​​​​

ज्ञानदीप मंदिर में आयोजित हिंदू जागृति मंच की बैठक में संगठन के मंडल महामंत्री अजय गुप्ता सर्राफ ने कहा कि संभल 68 तीर्थों 19 कूपों सहित हरिहर मंदिर की पुण्य भूमि है। धर्म शास्त्रों, ग्रंथों के अनुसार कलयुग में भगवान श्री कल्कि विष्णु का अवतार संभल में ही होना है। ऐसे में संभल को पर्यटन स्थल घोषित होना ही चाहिए।

पर्यटन नगरी घोषित करने की मांग

जिला अध्यक्ष अरुण कुमार अग्रवाल ने कहा कि बीते सप्ताह आयोजित धर्म सभा में उपस्थित क्षेत्र के साधु-संतों,पुरोहितों और पंडितजनों ने सामूहिक रूप से संभल को पर्यटन नगरी घोषित कराने की मांग बुलंद करने का प्रस्ताव पास किया था। इसलिए धर्म सभा में पास हुआ प्रस्ताव हिंदू जागृति मंच के लिए अभीष्ट है। इसके लिए हमें सतत संघर्ष करना होगा।

निरंतर संघर्ष की जरूरत

मंडल अध्यक्ष अनंत कुमार अग्रवाल ने उपजिलाधिकारी, जिलाधिकारी, कमिश्नर,पर्यटन मंत्री,मुख्यमंत्री, गृहमंत्री,प्रधानमंत्री सहित सभी जिम्मेदारों से मिलने, ज्ञापन देने तथा संभल की आवश्यकता एवं महत्व सिद्ध करने के लिए निरंतर संघर्ष करने की आवश्यकता बताई। प्रवक्ता अजय कुमार शर्मा ने सभी सदस्यों को सामूहिक रूप से संकल्प दिलाया कि सभी आम और खास लोगों का सहयोग लेते हुए संभल को पर्यटन स्थल घोषित कराने के लिए पुरजोर बिगुल बजाया जाएगा। उन्होंने सभी धार्मिक, सामाजिक, शैक्षिक संगठनों को एक साथ आकर संभल को सजाने में सहयोग करने का आह्वान किया।

ये लोग रहे मौजूद

बैठक में सुभाष चंद्र शर्मा, अरविंद शंकर शुक्ला,अमन सिंह, भरत मिश्र,श्याम शरण दालभ,सुभाष चंद्र मोंगिया,विकास कुमार वर्मा,सुबोध कुमार गुप्ता,सरिता गुप्ता,गुंजा गुप्ता,नेहा मलय,अमित शुक्ला,विष्णु कुमार,शलभ रस्तोगी आदि सदस्यों ने अपने विचार व्यक्त किए और संभल को पर्यटन स्थल घोषित कराने के लिए सामूहिक संघर्ष करने का सामूहिक रूप से संकल्प लिया।

खबरें और भी हैं...