पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हनीट्रैप में फंसाने वाली लड़की अरेस्ट:सहारनपुर में कारोबारी के लड़के को फंसाकर मांग रही थी रुपए; कहती थी झूठे रेप केस में फंसा दूंगी

सहारनपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सहारनपुर में गुरुवार को हनीट्रैप गैंग का भंडाफोड़ हुआ है। पुलिस ने सरगना मुस्कान को गिरफ्तार कर लिया। जबकि गैंग के अन्य सदस्य फरार है। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। यह मुकदमा वादी ने 156 (3) में कोर्ट में दाखिल किया था, जिसके बाद पुलिस ने जांच की।

वीडियो बनाकर करती थे ब्लैकमेल
हनीट्रैप गैंग के निशाने पर प्रतिष्ठित व्यापारी, नौकरीपेशा लोग रहते थे, जो लड़की को सामने रखकर अपने प्रेमजाल में फंसाता है। जिसके बाद वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करता था। विरोध पर किसी भी थाने में दुष्कर्म का मुकदमा कराया जाता है।

यह गिरोह अब तक शहर के पांच प्रॉपर्टी डीलरों को अपना शिकार बना चुका है। हालांकि इन लोगों ने गिरोह के खिलाफ रंगदारी मांगने का मुकदमा दर्ज कराया हुआ है। यह एक मामला नहीं है। ऐसे दर्जनों मामले हैं।

यह लोग हो चुके हनीट्रैप गिरोह के शिकार
देहात कोतवाली क्षेत्र के रहने वाले मुकव्विल, शहजाद, नदीम, जुल्फान प्रॉपर्टी डीलर के अलावा एक बिजनेसमैन के लड़के को अपने प्रेमजाल में फंसाया था। एक पीड़ित ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि एक प्रॉपर्टी डीलर के पास एक लड़की का फोन आया, जो अपना नाम मुस्कान बताती है। इसके बाद वह इस प्रॉपर्टी डीलर को एक मकान में मिलने बुलाती है।

जहां पर जैसे ही प्रॉपर्टी डीलर पहुंचता है। तो लड़की के साथ दो युवक होते हैं। और वह प्रॉपर्टी डीलर को तमंचे के बल पर नग्न कर लेते हैं। जिसके बाद उसकी वीडियो बनाते हैं। इसके बाद प्रॉपर्टी डीलर से पैसा मांगे जाते हैं। वह पैसा नहीं देता तो उपरोक्त सभी डीलरों के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा करा दिया जाता है। मुकदमा दर्ज कराने के बाद भी चारों लोगों से आठ लाख रुपए मांगे जाते हैं।

गिरोह ऐसे कर रहा है काम
इन गिरोह में दो लड़कियां और दो युवक है। युवकों का काम लड़कियों को पैसे वाले लोगों के फोन नंबर उपलब्ध कराना होता है, जिसके बाद लड़कियां फोन पर बात करती है। किसी को भी अपने प्रेमजाल में फंसा लेती है। इसके बाद शुरू होता है। हनीट्रैप का खेल। बाद में वहीं युवक पैसों का लेनेदेन करते हैं।

अधिवक्ता को दी थी फंसाने की धमकी
अधिवक्ता सलीम खान का कहना है कि उसने शहजाद आदि के मुकदमें में पैरवी शुरू की तो उन्हें भी एक लड़की ने धमकाया कि यदि वह पीछे नहीं हटे तो उनके खिलाफ भी मुकदमा दर्ज करा देगी। जिसके बाद इस गिरोह के खिलाफ अधिवक्ता ने सदर बाजार थाने में एनसीआर दर्ज कराई थी।

खबरें और भी हैं...