पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस पर जबरन किशोरी के बयान कराने का आरोप:पीड़ित परिवार ने एसएसपी से मिलकर लगाई न्याय की गुहार, पुलिस बोली, 164 के बयानों के तहत हुई कार्रवाई

सहारनपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Money Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

सहारनपुर के थाना फतेहपुर पुलिस पर एक किशोरी के पिता ने गंभीर आरोप लगाए हैं। पिता का आरोप है कि उसकी बेटी का अपहरण कर लिया गया था। बेटी को कई माह तक दिल्ली में रखा गया। उसके साथ दुष्कर्म हुआ, लेकिन जब पुलिस ने बेटी को बरामद किया तो उसका न तो मेडिकल कराया और जबरन कोर्ट में युवक के पक्ष में बयान दिलाए गए। आरोप है कि पुलिस ने बाकी नामजद आरोपियों को भी बचा लिया है।

एसएसपी से मिला पीड़ित परिवार
फतेहपुर थाना क्षेत्र के एक गांव के रहने वाले व्यक्ति ने बताया कि उसकी बेटी का जुलाई माह में समीप के गांव मानक माजरा का रहने वाला शाहिद बहला फुसलाकर अपहरण कर ले गया था। पिता की तरफ से शाहिद और उसके परिवार के कई लोगों को नामजद करते हुए मुकदमा दर्ज कराया गया था। आरोप है कि परिवार की महिलाओं की मदद से ही किशोरी का अपहरण किया गया था। आरोप है कि कई माह तक किशोरी को शाहिद ने दिल्ली में रखा। वह पुलिस को बोलते रहे कि वह लोग दिल्ली में है, लेकिन कोई दबिश नहीं दी गई।

वापस छोड़ गया था आरोपी
पीड़ित परिवार ने बताया कि शाहिद किशोरी को कुछ दिन बाद छोड़कर वापस अपने गांव में आ गया। इस दौरान किशोरी को शाहिद ने हरियाणा में भेज दिया। बाद में पुलिस ने शाहिद को पकड़ा तो किशोरी हरियाणा से बरामद हो गई। आरोप है कि फतेहपुर थाने के एक दारोगा ने किशोरी को डरा-धमकाकर बयान करा दिए। किशोरी का मेडिकल तक नहीं कराया गया।

थाना फतेहपुर एसओ सतेंद्र नागर का कहना है कि किशोरी का न तो मेडिकल कराया और खुद ही युवक के पक्ष में धारा 164 के बयान दिए थे। किशोरी पर कोई दबाव नहीं बनाया गया।

खबरें और भी हैं...