पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जुमे की नमाज को लेकर प्रशासन अलर्ट:100 से ज्यादा वीडियोग्राफर रखेंगे बाजारों में नजर, पुलिस की मुस्तैदी में होगी जुमे की नमाज

सहारनपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाजारों में पैदल गश्त करते डीएम, एसएसपी और एसपी सिटी - Money Bhaskar
बाजारों में पैदल गश्त करते डीएम, एसएसपी और एसपी सिटी

सहारनपुर में 10 जून को जुमे की नमाज के बाद हिंसक प्रदर्शन हुआ। 17 जून को शांतिपूर्ण तरीके से नमाज पढ़ी गई। इसके बाद से सहारनपुर अब शांत नजर आ रहा है। बावजूद इसके एहतियातन इलाके में पुलिस की भारी मौजूदगी बनी हुई है। हालांकि, हिंसाग्रस्त इलाके में अब जिंदगी सामान्य ढर्रे पर आ चुकी है। पिछले जुमे को प्रशासन की मुस्तैदी से हालात ज्यादा बिगड़ने नहीं पाए। आज होने वाली जुमे की नमाज को लेकर भी पुलिस अलर्ट मोड पर है। 100 से ज्यादा वीडियोग्राफर लगाए गए है। जो पल-पल होने वाली हलचल को कैमरे में कैद करेंगे। वहीं पुलिस बल भी पहले की तरह मुस्तैद रहेगा।

पीस कमेटी से लगातार संपर्क में प्रशासन

बाजारों में मुस्तैद पुलिस बल।
बाजारों में मुस्तैद पुलिस बल।

शासन और प्रशासन 10 जून को हिंसा दोबारा न होने पाए इसलिए आज जुमे की नमाज को लेकर पूर प्रदेश में अलर्ट है, खासकर वेस्ट यूपी में। सतर्कता बढ़ा दी गई है। मेरठ, मुजफ्फरनगर, शामली, बागपत और सहारनपुर में जुमे की नमाज को लेकर सख्ती बढ़ा दी गई है। हालांकि 10 जून की हिंसा के बाद लगातार जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन शांति समिति, पीस कमेटी से बात कर शांति व्यवस्था बनाने की अपील कर रहा है। हालांकि धर्मगुरुओं का भी सहारा लिया जा रहा है। मैसेज और वीडियो भी वायरल किये जा रहे, जिससे लोग शांति व्यवस्था बनाकर रखें।

जोनल, सेक्टर और सब सेक्टर व्यवस्था लागू

जामा मस्जिद के पास मुस्तैद पुलिस बल।
जामा मस्जिद के पास मुस्तैद पुलिस बल।

जुमे की नमाज को लेकर जोनल, सेक्टर और सब सेक्टर व्यवस्था लागू की गई है। जुमे की नमाज से एक दिन पहले फ्लैग मार्च, पैदल मार्च किया गया। अधिकारी से लेकर पुलिसकर्मियों ने जुमे की नमाज से एक दिन पूर्व सड़कों पर पैदल मार्च किया। जिलों में धारा 144 लगाई गई है। संवेदनशील स्थानों पर पुलिस की निगरानी भी बढ़ाई गई है।

इन इलाकों में सख्त नजर
डीएम अखिलेश सिंह व एसएसपी आकाश तोमर के नेतृत्व में महानगर के समस्त थानों की पुलिस, पीएसी और आरएएफ ने घंटाघर से पैदल मार्च शुरू किया। दोनों अधिकारियों के नेतृत्व में नेहरू मार्केट, श्रीराम चौक, प्रताप मार्केट, शहीद गंज बाजार, चौक फव्वारा, मोरगंज बाजार, दाल मंडी पुल सहित संवेदनशील इलाकों में पुलिस-फोर्स तैनात रहेगी।