पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Market Watch
  • SENSEX59037.18-0.72 %
  • NIFTY17617.15-0.79 %
  • GOLD(MCX 10 GM)48458-0.16 %
  • SILVER(MCX 1 KG)646560.47 %

सहारनपुर में अब तक खुरपका से 14 पशुओं की मौत:देवबंद का खटोली गांव खुरपका बीमारी का हॉटस्पॉट बना हुआ है, पशु चिकित्सा विभाग ने गांव में डेरा डाला

सहारनपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खुरपका बीमारी से मरी गाय - Money Bhaskar
खुरपका बीमारी से मरी गाय

सहारनपुर के देवबंद के गांव खटोली में खुरपका बीमारी का कहर रुकने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को भी गांव में एक गोवंश की खुरपका बीमारी से मौत हो गई। गांव में अब तक 14 दुधारू पशुओं की मौत होने से किसानों में कोहराम मचा हुआ है। SDM के आदेश पर गांव पहुंची पशु चिकित्सा विभाग की टीम ने पशुओं के वैक्सीनेशन में तेजी शुरू कर दी है।

गांव खटोली बना हॉटस्पॉट
देवबंद का खटोली गांव इस समय खुरपका बीमारी का हॉटस्पॉट बना हुआ है। बुधवार को भी गांव में किसान आदेश त्यागी के एक गोवंश की खुरपका की बीमारी से मौत हो गई। ग्रामीणों के मुताबिक गांव में अब तक सैकड़ों पशु महामारी की चपेट में आ गए हैं। जबकि 14 पशुओं की मौत हो गई है। हालांकि DM अखिलेश सिंह और देवबंद SDM दीपक कुमार सिंह के दिशा निर्देश पर गांव में पशु चिकित्सा विभाग की टीमें डेरा डाले हुए हैं। लेकिन इसके बावजूद भी महामारी पर कंट्रोल नहीं हो पा रहा है। एकाएक गांव में पशुओं की होती मौतों के कारण किसानों में दहशत का माहौल बना हुआ है।

किसान नरेंद्र कुमार, संजय, ग्राम प्रधान अनुराधा, पूर्व प्रधान माया देवी आदि ने बताया की लगातार गांव में खुरपका बीमारी का कहर बढ़ता जा रहा है। जिसके चलते लोगों में दहशत बनी हुई है। लगातार दुधारू पशुओं की मौत से किसान सदमे में है। देवबंद SDM दीपक कुमार सिंह ने बताया खटोली गांव में पशु चिकित्सकों की टीम लगातार कैंप किए हुए हैं। जल्द ही महामारी पर नियंत्रण कर लिया जाएगा।

किसान नेताओं ने CM को भेजकर राहत की गुहार लगाई
गांव खटोली में पशुओं की एकाएक मौत के चलते भारतीय किसान संघ के प्रदेश अध्यक्ष श्यामवीर त्यागी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भेजकर पीड़ित किसानों को त्वरित आर्थिक सहायता देने की मांग की है। भेजे पत्र में किसान नेता श्यामवीर त्यागी ने बताया खटोली गांव में प्रकार से किसानों के दुधारू पशुओं की मौत हो रही है उस से किसानों को आर्थिक रूप से भी भारी नुकसान हुआ है। जिसकी भरपाई राज्य सरकार मुख्यमंत्री राहत कोष से करें।

खबरें और भी हैं...