पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पटाखों की धूम धड़ाका से वायु में घुला जहर:सहारनपुर में 5 करोड़ की आतिशबाजी हुई, जिले में AQI 270, PM-10 369.36 और  SO2 17.11 व  NO2 का स्तर 26.47 दर्ज हुआ

सहारनपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सहारनपुर में वायु प्रदूषण की स - Money Bhaskar
सहारनपुर में वायु प्रदूषण की स

सहारनपुर में कोरोना संकट और महंगाई के बावजूद दीपावली आम लोगों के लिए खुशियां लेकर आई है। दीपावली पर्व पर 5 करोड़ रुपये की आतिशबाजी हुई है। पटाखों से निकलने वाले धुएं से सहारनपुर में प्रदूषण 40 से 45 डेसिमल से बढ़कर 70 के आंकड़े के आसपास रहा। शुक्रवार सुबह को लोग धुंआ और धूल के कणों से परेशान रहे। वहीं दीपावली पर ध्वनि प्रदूषण भी 30% से 35% की वृद्धि दर्ज की गई। वहीं जबकि दीपावली पर्व पर AQI 270 रहा और PM-10, 369.36 रहा।

सांस के रोगियों को हुई परेशानी
प्रदूषण विभाग के क्षेत्रीय अधिकारी डा.दिनेश चंद पांडेय के अनुसार, गतवर्ष की अपेक्षा 2021 में AQI (वायु गुणवत्ता सूचकांक) में कमी है। उन्होंने बताया कि गतवर्ष AQI 300 के करीब था, लेकिन अब की बार AQI 270 ही पहुंचा है। जबकि ध्वनि प्रदूषण का औसत स्तर 70 दर्ज किया गया है। वायु प्रदूषण बढ़ने से सांस के रोगियों को भारी परेशानी उठानी पड़ी। शुक्रवार सुबह से ही जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में सांस के रोगी पहुंच रहे थे। शाम तक करीब 20 सांस के रोगी पहुंचे। हालांकि चिकित्सकों ने दवाई देकर घर भेज दिया।

रात दो बजे तक हुई आतिशबाजी
04 नवंबर को शाम से आतिशबाजी शुरू हुई तो देर रात दो बजे तक चलती रही। आतिशबाजी से हुए प्रदूषण से हवा में जहर घुल गया। कई क्षेत्रों में वृद्धों को पटाखों की आवाज और धुंए से परेशानी उठानी पड़ी। क्षेत्रीय अधिकारी प्रदूषण नियंत्रण विभाग डीसी पांडेय ने बताया कि आमतौर पर पीएम-2 धुंआ (प्रटिक्यूलेट मैटर) 81 रहता है, जबकि इसका स्टैंडर्ड 60 का है। दीपावली के दिन यह 165 दर्ज किया गया। पीएम-10 धूल के कण सामान्य दिनों पर 180 के आसपास रहता है दीपावली पर यह 369.34 रहा है। इसी प्रकार ध्वनि प्रदूषण में भी करीब तीस प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।

हसनपुर चुंगी पर रहा 74 डेसीमल प्रदूषण रहा
रिहायशी इलाकों में आम दिनों में ध्वनि प्रदूषण 55 से 45 डेसीमल रहता है, लेकिन दीपावली पर्व पर घंटाघर क्षेत्र में ध्वनि प्रदूषण 69.2 हसनपुर चुंगी क्षेत्र में 74, चंद्र नगर में 72.4 प्रदूषण का स्तर रहा। RO डा.डीसी पांडेय के अनुसार, SO2 का स्तर 17.11, NO2 का स्तर 26.47 दर्ज किया गया। जबकि पीएम-10 यानि धूल के कण 369.34 दर्ज किया गया। AQI औसत 270 दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि 03 नवंबर को घंटाघर क्षेत्र में ध्वनि प्रदूषण 64.2, हसनपुर क्षेत्र का 62 तथा चंद्रनगर का 58 दर्ज किया गया था। जबकि AQI का स्तर 219 रहा।

खबरें और भी हैं...