पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बारिश से 7 डिग्री सेल्सियस गिरा पारा:मां शाकंभरी देवी मेले में बुजुर्ग, विकलांग और बच्चों को न लाने की अपील

सहारनपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मां शाकंभरी देवी मेले से पूर्व निरीक्षण करते हुए मंडलायुक्त लोकेश एम, डीआईजी सुधीर कुमार, डीएम अखिलेश सिंह व एसएसपी विपिन ताडा।

शिवालिक की पहाड़ियों और मैदानी इलाकों में पिछले पांच दिनों से हो रही बारिश से मां शाकंभरी देवी की बरसाती नदी भी उफान मार रही है। मैदानी इलाकों में बारिश के कारण सड़कों पर जलभराव की स्थिति पैदा हो गई है। पुराने शहरों से लेकर नए शहरों की सड़क पानी से लबाबब हो गई है। बारिश होने से अधिकत तापमान में 4 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 7 डिग्री सेल्सियस पारा गिरा है।

रविवार को अधिकतम तापमान 29 और न्यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस हो गया है। वहीं मां शाकंभरी देवी में लगने वाला नवरात्र का मेला भी खटाई में पड़ गया है। डीएम अखिलेश सिंह ने सरसावा, बिहारीगढ़, शामली और मुजफ्फरनगर बॉर्डर पर भी आने वाले श्रद्धालुओं को मां शाकंभरी के दर्शन के लिए न आने की अपील की है।

सरकारी कार्यालयों और कॉलोनियों हुआ जलभराव

मेले की सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण करते अधिकारी
मेले की सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण करते अधिकारी

पिछले पांच दिनों से हो रही बारिश के कारण नगर निगम की पोल भी खुल गई है। बारिश का पानी नाली और सड़कों पर लबालब भरा हुआ है। बारिश के कारण दो जर्जर मकान भी जमीदोज हो गए है। शनिवार की सुबह को शहीद गंज बाजार की कर्णवाल मार्किट में एक मकान गिरने से एक किशोरी की मौत हो गई। वहीं शनिवार की देर रात को चिलकाना रोड पर एक मकान गिर गया। जिससे एक गाड़ी पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई।

मां शाकंभरी देवी पैदल जाएंगे श्रद्धालु

बरसाती नदी में आने वाली बारिश को लेकर चर्चा करते अधिकारी।
बरसाती नदी में आने वाली बारिश को लेकर चर्चा करते अधिकारी।

भारी बारिश की संभावनाओं को देखते हुए जिला प्रशासन ने मेले में आने वाले श्रद्धालुओं से बुजुर्ग, विकलांग और बच्चों को न लाने की अपील की है। जिला प्रशासन ने मां शाकंभरी देवी से डेढ़ किलोमीटर पहले भूरा देव पर पार्किंग की व्यवस्था की है।

डीएम ने श्रद्धालुओं से अपील की है, आगामी दिनों में यदि भारी बारिश होगी तो भूरे देव मंदिर से सहारनपुर की ओर आने वाले मार्ग पर बने जिला पंचायत गेट के निकट बने बैरियर से आगे किन्हीं भी दर्शानार्थियों को जाने की अनुमति नहीं होगी।

चूंकि भूरे देव मंदिर से पहले डेढ़ किलोमीटर पहले पार्किंग व्यवस्था होने के कारण इस वर्ष विगत वर्षों की अपेक्षा दर्शनार्थियों को ज्यादा पैदल चलकर भूरे देव व मां शाकंभरी देवी के दर्शन करने होगे।

26 सितंबर से 10 अक्टूबर तक चलेगा मेला

शनिवार की देर रात को चिलकाना रोड पर गिरे जर्जर भवन से क्षतिग्रस्त गाड़ी।
शनिवार की देर रात को चिलकाना रोड पर गिरे जर्जर भवन से क्षतिग्रस्त गाड़ी।

डीएम ने बारिश को देखते हुए आदेश दिए है, नदी तल पर कोई मेला दुकान नहीं लगेगी। 2019 में भी अत्यधिक व अचानक भारी जल प्रवाह नदी तल में होने के कारण जनहानि हो चुकी है। शारदीय नवरात्रों में मां शाकंभरी देवी मेला 26 सितंबर से प्रारंभ होगा और 10 अक्टूबर तक चलेगा।

नवरात्रों में मां शाकंभरी देवी एवं श्री भूरा देव मंदिर के दर्शनों हेतु लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं का आवागमन रहता है। मेले की तैयारियों के दृष्टिगत जिला पंचायत सहारनपुर द्वारा बैरीकेटिंग, नदी तल को समतल करने व प्रकाश व्यवस्था में बिजली के कार्य विगत 4-5 दिनों से प्रारंभ कराए गए।

खबरें और भी हैं...