पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

NIA ने मदरसे से रोहिंग्या छात्र को उठाया:1 महीने से जकरिया मदरसे में कर रहा था पढ़ाई, टीम ने कमरे की भी ली तलाशी

देवबन्द2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सहारनपुर के देवबंद में जकरिया मदरसे में पढ़ाई कर रहे रोहिंग्या छात्र को बुधवार की शाम नेशनल इनवेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) ने हिरासत में ले लिया। छात्र रोहिंग्या मुस्लिम है और वह म्यांमार (बर्मा) का रहने वाला है। वह अरबी कक्षा 6 की पढ़ाई कर रहा था।

एनआईए द्वारा हिरासत में लिए गए छात्र का नाम मुजीबुल्ला पुत्र हबीबुल्ला हैl वह देवबंद के हाईवे स्थित एक जकरिया मदरसे में विगत 1 महीने से पढ़ाई कर रहा था। उसकी उम्र 11 साल है। टीम ने छात्र के बारे में पूरी जानकारी जुटाई, मदरसे से भी छात्र के बारे में पूछा।

किराए के कमरे में भी एनआइए ने की जांच-पड़ताल

छात्र सोविता फरिका राज्य अरकान म्यांमार का है। छात्र के पास संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी उच्चायुक्त कार्यालय (यूएनएचआरसी) द्वारा जारी किया गया वैध कार्ड भी है। छात्र नगर के मोहल्ला महल में किराए के कमरे में रह रहा था। एनआईए की टीम ने वहां पहुंचकर भी जांच पड़ताल की है। कमरे में मौजूद दस्तावेजों को खंगाले, हर एक चीज की बारीकी से छानबीन की।

पूछताछ के लिए छात्र को साथ ले गई एनआईए

एनआईए की टीम छात्र को पूछताछ के लिए साथ लेकर गई है। एनआइए ने छात्र को क्यों उठाया, अभी तक इसकी वजह सामने नहीं आ पाई है। स्थानीय अधिकारी भी अभी जानकारी देने से बच रहे हैं। चर्चा है कि किसी खुफिया जानकारी के बाद टीम ने यह कार्रवाई की है। जल्द ही पूरी सच्चाई लोगों के सामने आ सकती है।

सहारनपुर के देवबंद में उत्तराखंड नंबर की इसी कार से आई थी एनआईए की टीम।
सहारनपुर के देवबंद में उत्तराखंड नंबर की इसी कार से आई थी एनआईए की टीम।

उत्तराखंड नंबर की कार से पहुंची थी टीम

एनआईए की टीम बेहद गुपचुप तरीके से उत्तराखंड नंबर की कार से देवबंद पहुंची थी। मुजीबुल्ला को देवबंद कोर्ट में पेश करने के बाद अपने साथ ले गईl टीम ने इस कार्रवाई को पूरी तरह गोपनीय बनाए रखा। टीम के जाने के बाद लोग छात्र को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं करते नजर आ रहे हैं।

खबरें और भी हैं...