पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रामपुर में बार एसोसिएशन ने किया विरोध प्रदर्शन:खनन माफियाओं के साथ थाने में घुसकर भाजपा नेता व वकील ने की थी मारपीट, दारोगा पर तानी पिस्टल

रामपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रामपुर में बार एसोसिएशन ने किया विरोध प्रदर्शन

रामपुर में खनन माफियाओं के साथ मिलकर वकील और भाजपा नेता द्वारा थाने में घुसकर मारपीट की गई थी। मारपीट के दौरान इंस्पेक्टर पर पिस्टल भी तानी थी। जिस पर पुलिस ने 15 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर 6 लोगों को वकील भाजपा नेता सहित जेल भेज दिया।

वकील की गिरफ्तारी से नाराज बार एसोसिएशन रामपुर ने हड़ताल कर दी। पुलिस के खिलाफ जोरदार नारेबाजी करते हुए वकीलों ने न्यायिक प्रक्रिया को रोक दिया। बार एसोसिएशन का कहना है कि एसओ केमरी को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाए।

दोबारा कराया जाए वकील का मेडिकल

इस मौके पर बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद लोधी ने राजेंद्र प्रसाद लोधी ने बताया कि पुलिस ने फर्जी मुठभेड़ दिखाकर अधिवक्ता को जेल भेजा है। अधिवक्ता सिर्फ आमजन की शिकायत के लिए थाने गया था। उन्होंने बताया कि अधिवक्ता का रात्रि 2:10 से लेकर 2:45 पर जब मेडिकल हुआ था तो उसमें कोई चोट का निशान नहीं था, जबकि बाद में अधिवक्ता के 9 सिर में टांके आए, जिससे साफ जाहिर है कि अधिवक्ता के साथ घटना के बाद पुलिस ने मारपीट की है। अधिवक्ता का अब मेडिकल डॉक्टरों के पैनल से कराया जाना चाहिए।

क्या है पिस्टल तानने और मारपीट का मामला

रामपुर के थाना केमरी में 23 मई की आधी रात भाजपा नेता ने करीब डेढ़ दर्जन खनन माफियाओं के साथ मिलकर थाने के अंदर पिस्टल और लाठी डंडों से जानलेवा हमला कर दिया था। इस दौरान भाजपा नेता और माफियाओं ने थाने के अंदर पुलिस के साथ मारपीट की, थाने में तोड़फोड़ की थी। पुलिस ने मौके से भाजपा नेता रोहताश मौर्य सहित छह खनन माफियाओं को धर दबोचा था। साथ ही 15 लोगों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज की थी।

रोहिताश मौर्य ने लड़ा था जिला पंचायत सदस्य का चुनाव

जिला पंचायत के वार्ड 29 से रोहताश मौर्य ने बीते जिला पंचायत चुनाव में सदस्य पद का चुनाव लड़ा था, हालांकि वह चुनाव हार गया था। वहीं रोहताश मौर्य की पत्नी भाजपा की ग्राम प्रधान है। रोहिताश मौर्य के बारे में चर्चा है कि खनन माफियाओं से वह अवैध वसूली करता है और इस मामले में काफी चर्चित है।